NRC को लेकर घिरे CM केजरीवाल दिल्ली में मचा बवाल, BJP ने की शिकायत

Updated Date: Thu, 26 Sep 2019 04:16 PM (IST)

एनआरसी को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल द्वारा दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी पर की गई टिप्पणी के खिलाफ लोग सड़क पर उतर आए हैं। भाजपा नेताओं ने दिल्ली सीएम केजरीवाल और विधायक सौरभ भारद्वाज के खिलाफ शिकायत की है।


नई दिल्ली (एएनआई/आईएएनएस)। दिल्ली विधानसभा चुनावों से पहले, राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) की बहस भाजपा की दिल्ली इकाई के साथ गरमा गई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी के खिलाफ टिप्पणी करने के विरोध में गुरुवार को लोग यहां सड़कों पर उतरे हैं। इसके साथ भारतीय जनता पार्टी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक सौरभ भारद्वाज के खिलाफ संसद मार्ग थाने में शिकायत भी दर्ज कराई।  एनआरसी पर अफवाहें फैलाने का आरोप
पुलिस उपायुक्त को संबोधित पत्र में,  भाजपा नेताओं नीलकांत बख्शी और कपिल मिश्रा ने एनआरसी पर फवाहें फैलाने, सुप्रीम कोर्ट द्वारा निर्धारित दिशा-निर्देशों पर झूठ बोलने और उत्तर प्रदेश, बिहार, ओडिशा और राजस्थान के नागरिकों की तुलना घुसपैठियों से करने के लिए शिकायत दर्ज करने का अनुरोध किया है। मुख्यमंत्री और विधायक ने जानबूझकर कहा कि यदि एनआरसी दिल्ली में लागू हुई तो है, तो उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान और ओडिशा के लोगों को बाहर निकाल दिया जाएगा।NRC in Haryana कांग्रेस नेता हुड्डा ने सीएम खट्टर के विचार का समर्थन कियारोहिंग्या घुसपैठियों को बचाने की साजिश


भाजपा नेताओं ने दोनों पर एनआरसी के बारे में सार्वजनिक रूप से गलत सूचना फैलाने का भी आरोप लगाया। पत्र में आगे कहा गया है कि यह भी संभव है कि यह बांग्लादेशी और रोहिंग्या घुसपैठियों को बचाने की साजिश हो। किसी तरह घुसपैठियों की पहचान करने की प्रक्रिया में केंद्र और सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों को बाधित करे। बता दें मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बुधवार को कहा था कि अगर दिल्ली में एनआरसी लागू किया जाता है, तो भाजपा नेता मनोज तिवारी राजधानी छोड़ने वाले पहले व्यक्ति होंगे।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.