Coronavirus महामारी इस युग का तय करेगी 'भाग्य' : बिल गेट्स

2020-04-24T12:25:34Z

बिल गेट्स ने कोरोना वायरस महामारी को लेकर चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि इस महामारी को कभी भी भुलाया नहीं जा सकेगा।

वाशिंगटन (आईएएनएस) अरबपति समाजसेवी बिल गेट्स इन दिनों कोरोना वायरस महामारी को लेकर काफी चिंतित हैं। उन्होंने कहा है कि यह दुनिया की पहली ऐसी आधुनिक महामारी है, जो इस युग का भाग्य तय करेगी और इसे कभी भी भुलाया नहीं जा सकेगा। बिल गेट्स ने कहा कि उस दर्द को काबू करना असंभव है जो लोग अभी महसूस कर रहे हैं और आने वाले सालों तक लोग इसे महसूस करते रहेंगे, यह बीमारी खासकर गरीब समुदायों और नस्लीय अल्पसंख्यकों को बुरी तरह से आहत कर रही है। गेट्स ने गुरुवार को एक पोस्ट में जोकर देकर कहा, 'लॉकडाउन के चलते निम्न-आय और अल्पसंख्यक मजदूरों को सबसे ज्यादा परेशानी हो रही है। वह आर्थिक तंगी का सामना कर रहे हैं। नीति निर्माताओं को यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता होगी कि जैसे ही देश खुलता है, रिकवरी असमानता को पहले से भी बदतर ना बना दे।'

गेट्स ने कहा, एक विश्व युद्ध की तरह हैं हालात

बता दें कि कोरोना वायरस महामारी ने दुनिया की अर्थव्यवस्था को पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया है। इसने स्वास्थ्य और धन दोनों को बुरी तरह से बर्बाद किया है। गेट्स ने कहा, 'यह एक विश्व युद्ध की तरह है, सिर्फ इस बात को छोड़कर कि हम सभी एक ही साइड में हैं। हर कोई बीमारी के बारे में जानने व इससे लड़ने के लिए उपकरण विकसित करने के लिए मिलकर काम कर सकता है। हम ग्लोबल इनोवेशन के जरिए दुनिया में हो रहे नुकसान को सीमित कर सकते हैं। इन इनोवेशन में प्रसार को रोकने के लिए परीक्षण, उपचार, टीके और नीतियां शामिल हैं।' बता दें कि इस वक्त विश्व स्तर पर 70 से अधिक टीके विकास के विभिन्न चरणों में हैं और 4-5 शीर्ष दौड़ में हैं लेकिन वैज्ञानिकों के अनुसार, एक सफल कोविड-19 वैक्सीन बनाने में 12-18 महीने लग सकते हैं। बता दें कि बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने पिछले हफ्ते कोरोना के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में समर्थन करने के लिए 150 मिलियन डॉलर का अतिरिक्त भुगतान किया था। इसी तरह यह फाउंडेशन अब तक 250 मिलियन डॉलर दान दे चुका है।

Posted By: Mukul Kumar

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.