Delhi Violence: उत्तर-पूर्व दिल्ली में फिर बढ़ी चौकसी, पुलिस का दावा पटरी पर लाैट रही जिंदगी

Delhi Violence देश की राजधानी दिल्ली में आज जुमे की नमाज को देखते हुए मस्जिदों में कड़ी चौकसी रखी गई है। सुरक्षाकर्मी अलर्ट हैं। इसके अलावा पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अब उत्तर-पूर्व दिल्ली में जनजीवन तेजी से सामान्य हो रहा है।

Updated Date: Fri, 28 Feb 2020 12:34 PM (IST)

नई दिल्ली (पीटीआई)। Delhi Violence दंगाग्रस्त उत्तर-पूर्व दिल्ली के कुछ हिस्सों में जीवन सामान्य हो रहा है। हालांकि आज यहां जुमे की नमाज को देखते हुए पुलिस और अर्धसैनिक बल के जवानों ने मस्जिदों में कड़ी चौकसी रखी है। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि वे अफवाहों को रोकने के लिए अतिरिक्त प्रयास कर रहे है। लोगों में आत्मविश्वास भरने के लिए नियमित फ्लैग मार्च और बातचीत आयोजित कर रहे हैं। इसके साथ ही उत्तर-पूर्व दिल्ली के कुछ क्षेत्रों में दुकानों के खुलने के साथ सामान्य जीवन के संकेत देखे गए। हिंसा प्रभावित इलाकों में भी, सड़कों और गलियों में दुकानें खुली हैं।

शांति बनाए रखने की अपील

सोमवार से उत्तर-पूर्व जिले के प्रभावित क्षेत्रों में लगभग 7,000 अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है।इसके अलावा, दिल्ली के सैकड़ों पुलिसकर्मी शांति बनाए रखने और किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए सड़कों पर माैजूद हैं। नागरिकता कानून समर्थकों और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसा के बाद सोमवार को पूर्वोत्तर दिल्ली में हुई सांप्रदायिक झड़पों से अब तक करीब 38 लोग मारे गए और 200 से अधिक घायल हो गए।

उत्तर-पूर्व दिल्ली में हालात काबू

उत्तर-पूर्व दिल्ली प्रभावित क्षेत्रों में जाफराबाद, मौजपुर, चांद बाग, खुरेजी खास और भजनपुरा आदि शामिल हैं। वहीं केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गुरुवार रात कहा है कि अब यहां हालात काबू में हैं। पिछले 36 घंटों में पूर्वोत्तर जिले में शांति नजर आ रही है। यहां कोई बड़ी घटना नहीं हुई है।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.