हादसों में प्रोफेसर की पत्‍‌नी सहित चार की मौत

2019-12-11T05:45:36Z

- धूमनगंज, नवाबगंज, शंकरगढ़ एवं हंडिया में हुई घटना

PRAYAGRAJ: शहर से गांव तक हुए हादसों में कुल चार लोगों की मौत हो गई। जगह-जगह हुए इन हादसों में जान गंवाने वाली एक प्रोफेसर की पत्‍‌नी भी शामिल हैं। पुलिस ने चारों की डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। खबर सुनते ही मृतकों के परिवार में कोहराम मच गया।

स्कूल बस ने स्कूटी में मारी टक्कर

धूमनगंज के हेमंतवन मौसम बिहार मालिंदीपुर निवासी अतुल केपी बीएड कॉलेज में प्रोफेसर हैं। मंगलवार सुबह उनकी पत्‍‌नी रचना (38) स्कूटी से मार्केट जा रही थीं। मोहल्ले के पास ही एक प्राइवेट स्कूल की बस ने उनकी स्कूटी में टक्कर मार दिया। सूचना पर पहुंचे अतुल ने फोन एम्बुलेंस को किया। उन्होंने बताया कि करीब आधे घंटे तक एम्बुलेंस मौके पर नहीं पहुंची। एम्बुलेंस पहुंचने में देर होते देख डॉयल 112 के जवान उन्हें लेकर एसआरएन हॉस्पिटल पहुंचे। यहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

यहां भी हुए हादसे, मचा कोहराम

इसी तरह नवाबगंज एरिया स्थित लालूडीह गांव के पास हाईवे किनारे खड़े ट्रक में कंटेनर पीछे से जा घुसा। इस हादसे में चालक संतोष (25) पुत्र कमलेश बाबू निवासी धौलपुर थाना जसवंतनगर इटावा की मौत हो गई। उधर हण्डिया क्षेत्र के उपरदहा के पास सात दिसंबर को हुए हादसे में घायल अमरेश कुमार मिश्र (30) पुत्र विजय बहादुर निवासी पूरे कांटा हंडिया ने मंगलवार रात इलाज के दौरान एसआरएन हॉस्पिटल में दम तोड़ दिया। चौथी घटना शंकरगढ़ रेलवे स्टेशन पर हुई। मध्य प्रदेश सतना के मोहनी बरौधा निवासी कमला देवी (36) पत्‍‌नी जमुना प्रसाद चलती ट्रेन पर चढ़ते वक्त फिसल गई। घायलावस्था में उसे एसआरएन हॉस्पिटल लाया गया। यहां इलाज के दौरान उसने भी दम तोड़ दिया। वहीं, नैनी में स्कूली बच्चों को लेकर जा रहा विक्रम दुबराजपुर के पास पलट गया। हादसे में आधा दर्जन छात्र घायल हो गए। परिजन बच्चों को लेकर हॉस्पिटल पहुंचे और इलाज बाद घर चले गए।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.