पहली बार ऑस्ट्रेलिया की संसद में किया गया योग भारत के बारे में वहां के पूर्व पीएम ने कही ये बात

2018-06-19T13:23:04Z

ऑस्ट्रेलिया की संसद में सोमवार को पहली बार योग किया गया। इसमें ऑस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री समेत कई मंत्रियों और सांसदों ने हिस्सा लिया।

दो घंटे तक किया गया योग
मेलबर्न (पीटीआई)।
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को है, लेकिन इसका असर अभी से ही पूरी दनिया में दिखने लगा है। ऑस्ट्रेलिया की संसद में सोमवार को पहली बार योग सत्र का आयोजन किया गया। केनबरा स्थित संसद के कम्युनिटी हाल में इस सत्र में पूर्व प्रधानमंत्री टोनी एबॉट समेत कई मंत्रियों व सांसदों ने हिस्सा लिया। योग के दौरान वहां मौजूद नेताओं ने कई आसनों का अभ्यास किया। दो घंटे तक चले इस सत्र का आयोजन मेलबर्न स्थित वासुदेव क्रिया योग समूह ने किया था।
पूरी दुनिया में फैल रहा योग
पूर्व प्रधानमंत्री टोनी एबॉट ने कहा, 'यह बहुत अच्छा है कि हम संसद में योग दिवस मना रहे हैं। चिंता और तनाव से घिरे नेताओं के लिए योग फायदेमंद है। इससे साफ जाहिर होता है कि भारतीय लोगों की तरह ऑस्ट्रेलियाई भी योग में काफी रुचि दिखाते हैं।' योग को प्रसारित करने में भारत की सफलता का जिक्र करते हुए एबॉट ने कहा, 'भारत उभरती विश्व शक्ति है और योग उससे जुड़ा हुआ है। मुझे खुशी है भारत से आया योग पूरी दुनिया में फैल रहा है।'
आने वाले सालों में यह और भी सफल होगा
वासुदेव क्रिया योग के राजेंद्र येंकानमुले ने कहा, 'पहली बार किसी देश की संसद में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया है। यह कार्यक्रम बहुत सफल रहा। हमें उम्मीद है कि आने वाले सालों में यह और भी सफल होगा।'

योगा इंटरनेशनल डे से पहले दून में रिहर्सल

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस: किताब और कविता साथ लेकर विदा हुए मोदी


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.