वर्ल्ड में COVID-19 के 46 प्रतिशत नये मामले भारत से, एक सप्ताह के दौरान हर चार में से एक मरने वाला भारत से

पिछले सप्ताह दुनिया भर में कोविड-19 के जितने नये मामले रिकाॅर्ड किए गए उनमें से 46 प्रतिशत सिर्फ भारत से ही थे। विश्व स्वास्थ्य संगठन डब्ल्यूएचओ ने बुधवार को कहा कि इतना ही नहीं इस दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वाले दुनिया के हर चार में से एक व्यक्ति भारत से था।

Updated Date: Wed, 05 May 2021 07:17 PM (IST)

जिनेवा (राॅयटर्स)। भारत में कोरोनो वायरस का संक्रमण बहुत तेजी से फैला है। इनमें भारत में पहली बार पाए गए वायरस के नये वैरिएंट से भी संक्रमण शामिल है। कोविड मरीजों की तेजी से संख्या बढ़ने की वजह से अस्पतालों में बिस्तर तथा ऑक्सीजन की भारी कमी हो गई है। संक्रमण से मौतें ज्यादा हो रही हैं जिसकी वजह से मुर्दाघर तथा श्मशान में जगह नहीं है।एक सप्ताह में भारत में बढ़े 20 प्रतिशत ज्यादा मामलेडब्ल्यूएचओ ने अपनी साप्ताहिक महामारी रिपोर्ट में कहा कि पिछले सप्ताह दुनिया भर में 57 लाख नये कोविड-19 संक्रमण के मामले रिकाॅर्ड किए गए थे। सप्ताह के दौरान कोरोना वायरस से दुनिया में 93,000 मरीजों की मौत हो गई थी। भारत में संक्रमण के तकरीबन 26 लाख नये मामले दर्ज किए गए थे, जो पहले के सप्ताह से 20 प्रतिशत ज्यादा थे। इस दौरान यहां 23,231 मरीजों की मौत हुई थी।
भारत के पड़ोसी देशों में भी तेजी से फैल रहा संक्रमण


डब्ल्यूएचओ ने कहा कि ये आंकड़े आधिकारिक रिपोर्टिंग पर आधारित है। तमाम एक्सपर्ट्स का विश्वास है कि संक्रमण के नये मामले तथा मौतों के वास्तविक आंकड़े इससे कहीं ज्यादा हो सकते हैं। भारत में दुनिया की 18 प्रतिशत आबादी निवास करती है। ऐसे संकेत भी मिले हैं कि भारत से संक्रमण उसके पड़ोसी देशों में भी फैल रहा है। पिछले सप्ताह नेपाल में संक्रमण के मामले 137 प्रतिशत तक बढ़ कर 31,088 तक पहुंच गए हैं। श्रीलंका में भी कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी हुई है।कोरोना से अमेरिका के बाद दुनिया में सबसे ज्यादा भारत प्रभावितमंगलवार को भारत में 2 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं। यह आंकड़ा दुनिया में अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा है। पिछले 24 घंटों के दौरान भारत में कोरोना वायरस से 3,780 लोगों की मौत दर्ज की गई। भारत के स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में एक दिन में कोविड-19 से संक्रमण के 382,315 नये मामले सामने आए हैं।

Posted By: Satyendra Kumar Singh
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.