India vs New Zealand 1st T20I Pitch Report: ऑकलैंड में विराट ने की पहले बैटिंग तो जीतने के चांस ज्यादा

2020-01-24T10:13:41Z

India vs New Zealand 1st T20I Pitch Report भारतीय क्रिकेट टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला टी-20 आज ऑकलैंड में खेलेगी। यह मुकाबला ईडन पार्क में खेला जाएगा। इस मैदान पर पहले बैटिंग करने वाली टीम के जीतने के चांस ज्यादा रहते हैं। आइए जानें कैसा होगा पिच का मिजाज..

कानपुर। India vs New Zealand 1st T20I Pitch Report भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच पांच मैचों की टी-20 सीरीज का आगाज शुक्रवार से हो रहा। पहला मैच ऑकलैंड के ईडन पार्क में खेला जाएगा। विराट सेना पूरे जोश के साथ इस मैदान पर उतरेगी। मगर मेहमानों को थोड़ी सावधानी के साथ मैच खेलना होगा। 24 जनवरी को भारतीय कप्तान जब टाॅस के लिए आएंगे तो उन्हें ऑकलैंड के पिछले टी-20 इतिहास पर जरूर नजर डालनी होगी। आइए जानें कैसी रहती है ऑकलैंड की पिच और पहले या बाद में बैटिंग करने वाली किस टीम को मिलता है ज्यादा फायदा..यहां 19 टी-20 मैच खेले गएन्यूजीलैंड के सबसे बड़े क्रिकेट मैदानों में से एक ऑकलैंड के ईडन पार्क में पिछले 15 सालों से टी-20 मैच खेला जा रहा। पहला मुकाबला 2005 में हुआ था। तब से लेकर अब तक कुल 19 मैच यहां खेले गए जिसमें 16 मैचों में नतीजे आए जबकि तीन टाई रहे। इसमें भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच सिर्फ एक मुकाबला खेला गया।पहले बैटिंग करने वाला फायदे मेंऑकलैंड के ईडन पार्क में खेले गए पिछले सभी मुकाबलों पर नजर डालें तो यहां पहले बैटिंग करने वाली टीम के जीतने के चांस ज्यादा रहते हैं। यहां तीन टाई मैचों को छोड़कर कुल 16 मैचों के परिणामों पर गौर करें तो 10 बार उस टीम को जीत मिली जिसने पहले बैटिंग की। यानी कि यहां शुरुआत में पिच बल्लेबाजों को ज्यादा मदद करती है। पहली इनिंग में गेंद बल्ले से काफी तेजी से आती है जिसके चलते शाॅट लगाना आसान हो जाता है।How's the josh in the camp?#TeamIndia #NZvIND pic.twitter.com/zHxfs5PXrl— BCCI (@BCCI) January 23, 2020गोल नहीं है यहां का मैदानन्यूजीलैंड का ईडन पार्क गोल नहीं है। यह थोड़ा आयताकार है, चूंकि यहां क्रिकेट के अलावा बेसबाॅल भी खेला जाता है। ऐसे में मैदान सामने की तरफ थोड़ा लंबा है साइड में छोटा। यानी कि बल्लेबाज ऑफ साइड या लेग साइड में मिस टाइम शाॅट भी लगाता है तो गेंद बाउंड्री पार गिरती है। पिच पर गति और उछालन्यूजीलैंड की इस पिच पर गति और उछाल दोनों है। ऐसे में तेज गेंदबाजों को यहां काफी मदद मिलेगी बशर्ते वह सही लाइन और लेंथ पर गेंदबाजी करें। वरना आप यहां जितनी तेजी से गेंदबाजी करेंगे बल्लेबाज को बैटिंग करने में आसानी हो जाएगी। भारत के पास जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी जैसे यार्कर स्पेशलिस्ट हैं, जो कीवी बल्लेबाजों को परेशान कर सकते हैं।इस मैदान का हाईएस्ट स्कोर है 245 रनऑकलैंड मैदान का हाईएस्ट स्कोर 245 रन है। यह स्कोर ऑस्ट्रेलिया ने साल 2018 में न्यूजीलैंड के खिलाफ बनाया था। यह एक हाईस्कोरिंग मुकाबला था। जिसमें न्यूजीलैंड ने पहले खेलते हुए 243 रन बनाए थे मगर कंगारुओं ने दूसरे पारी में 245 रन बनाकर पांच विकेट से मैच जीत लिया। बता दें ऑकलैंड में आज तक सिर्फ पांच बार 200 प्लस स्कोर बने हैं।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.