ISRO का ऐलान गगनयान मिशन के लिए चुने गए 4 कैंडीडेट, चंद्रयान-3 भी इस साल भरेगा उड़ान

New Year 2020 पर इसरो ने बुधवार को घोषणा की कि इस साल भारत फिर से अंतरिक्ष में उड़ान भरने को तैयार है। साल 2020 में चंद्रयान-3 मिशन लॉन्च करने की तैयारी है। वहीं गगनयान के लिए भी चार कैंडीडेट सेलेक्ट किए जा चुके हैं।

Updated Date: Thu, 02 Jan 2020 08:41 AM (IST)

बेंगलुरु (पीटीआई)। नए साल पर आज भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने बड़ा ऐलान किया है। इसरो ने बुधवार को बीते साल 2019 की उपब्धियां और साल 2020 की परियाेजनाओं के बारे में बताया। बेंगलुरु में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, इसरो के अध्यक्ष के सिवन ने कहा मानवयुक्त मिशन 'गगनयान' के लिए चार अंतरिक्ष यात्रियों की पहचान की गई है। अंतरिक्ष यात्रियों का प्रशिक्षण जनवरी के तीसरे सप्ताह से रूस में शुरू होगा। चंद्रयान -3 की लॉन्चिंग इस साल
वहीं उन्होंने तीसरे चंद्र मिशन चंद्रयान -3 का प्रारूप भी बताया। उन्होंने कहा कि चंद्रयान -3 से संबंधित सभी गतिविधियां सुचारू रूप से चल रही हैं।इसरो के अध्यक्ष के सिवन के मुताबिक इसमें एक लैंडर, एक रोवर और एक प्रोपल्शन मॉड्यूल भी होगा। चंद्रयान -3 के लिए सरकार की तरह से भी मंजूरी मिल चुकी है। परियोजना की लागत पर इसरो अध्यक्ष ने कहा कि मिशन की लागत करीब 250 करोड़ रुपये होगी। चंद्रयान -3 की लॉन्चिंग इस साल हो सकती है।ऑर्बिटर अभी भी काम कर रहा है


वहीं इस दाैरान इसरो प्रमुख के सिवन ने बीते साल लाॅन्च किए गए दूसरे चंद्र मिशन चंद्रयान -2 पर भी राय व्यक्त की। विक्रम लैंडर के साथ क्या गलत हुआ, इस सवाल पर उन्होंने जवाब दिया कि यह वेग में कमी के कारण हुआ। हालांकि साथ ही यह भी कहा कि भले ही हम सफलतापूर्वक लैंड नहीं कर सके लेकिन हमने चंद्रयान -2 पर अच्छी प्रगति की है। ऑर्बिटर अभी भी काम कर रहा है। यह अगले 7 वर्षों के लिए साइंस डेटा प्रोड्यूस करने के लिए कार्य कर रहा है।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.