कान्हा उपवन इनॉग्रेशन में बेइज्जती से भड़के पार्षद

2018-12-01T06:00:03Z

- भाजपा के 41 पार्षदों में से 35 पार्षद पहुंचे थे कान्हा उपवन

- मेयर बोले मैंने खुद सबको इनवाइट किया है।

BAREILLY:

कान्हा उपवन के उद्घाटन के बाद भाजपा पार्षदों ने नगर निगम पर बेइज्जती करने के गंभीर आरोप लगा बैठे। पार्षदों में गुस्सा इस कदर था कि उन्होंने अपनी ही पार्टी मंत्री के दूसरे कार्यक्रमों से कन्नी काट ली। पार्षदों का कहना है कि नगर निगम में रोज-रोज की बेइज्जती तो सह लेते थे, लेकिन अब मामला बर्दाश्त के परे है। नगर निगम का कार्यक्रम था, पार्षदों को इनवाइट नहीं किया गया। पार्षद खुद पहुंचे भी तो उन्हें तवज्जो नही दिया गया और बाहरी व्यक्ति विशाल मेहरोत्रा कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहा था। पार्षदों ने पूरे मामले की शिकायत भाजपा के महानगर अध्यक्ष केएम अरोरा से की है। वहीं, पार्षदों के आरोप को मेयर ने सिरे से खारिज किया है।

पार्षद बोले, बाहरी व्यक्ति ने मंच पर चढ़ने से रोका

पार्षदों की मुख्य सचेतक शालिनी जौहरी ने बताया कि शहर में भाजपा के 41 पार्षद है। जिसमें से मंत्री के कार्यक्रम में करीब 35 पार्षद पहुंचे, लेकिन वहां उनकी बेइज्जती कर दी गई। जिसके बाद पार्षदों ने आरोप लगाना शुरू कर दिए।

- हमे कार्यक्रम में बुलाने के लिए इनवाइट नही किया गया।

- पिछली साल तक हम लोगों के पास बाकायदा एक लेटर पहुंचता था

- हम लोग पार्टी की वजह से कार्यक्रम में पहुंचे लेकिन वहां भी हमारा अपमान हुआ।

-जिसके बाद उन्होंने कहा कि आखिर यह विशाल मेहरोत्रा है कौन

- विशाल मेहरोत्रा को ही कार्यक्रम संचालन की अथॉरिटी दी थी, न तो वो नगर निगम में किसी पद पर है। और न ही पार्टी से जुडे़ हैं। तो फिर पूरा कार्यक्रम विशाल के ही नेतृत्व में क्यों हा रहा था।

- जिसके बाद उन्होंने कहा कि विशाल मेहरोत्रा ने उन्हें मंच पर भी चढ़ने से रोका

- पार्षदों ने एक यह भी आरोप लगाया कि यदि हमें मेयर साहब से मिलना हो तो हमे वेट करना पड़ता है। लेकिन विशाल मेहरोत्रा सीधा मेयर साहब और नगर आयुक्त साहब के कमरे में घुस जाते हैं।

मेयर बोले, पार्षदों के आरोप बेजा

जब पार्षदों के आरोपों के बारे में मेयर से उनका पक्ष जाना गया तो उन्होने भी लगातार उनके जवाब दिए। आइए बताते है कि मेयर ने क्या क्या कहा

- जब पार्षदों को इनवाइट नही किया गया। तो फिर वहां पर पहुंच कैसे गए।

- उनके आरोप गलत हैं कि उन्हें इनवाइट नही किया गया। मैंने फोन करके सबको इनवाइट किया।

- पार्टी का कोई कार्यक्रम नही था। कान्हा उपवन नगर निगम ने बनवाया है। नगर निगम का प्रोग्राम था। किसी का अपमान नहीं किया गया।

- क्या उन्हें नहीं पता कि विशाल मेहरोत्रा कौन है। विशाल मेहरोत्रा एक व्यापारी है।

- न तो कोई विशाल मेहरोत्रा कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहा था। और न ही किसी ने कोई अथॉरिटी दी। हो सकता है कि पार्षदों का आपसी कोई मामला हो इस बारे में मैं नही जानता

- किसने मंच पर चढ़ने से रोका, सभी पार्षद वहां पर मौजूद थे। उन्होने मंत्री जी को खुद ज्ञापन भी सौंपा यदि रोका होता तो खुद ज्ञापन कैसे सौंपते।

- मैं जब भी नगर निगम में बैठता हूं तो वो मेरा जनता दरबार होता है। और मैंने कभी किसी को रोकने के लिए नहीं कहा, जो भी आता है उसकी बात सुनता हूं।

इंदिरा मार्केट में 15 दुकानदारों को सौंपी चाबी

कान्हा उपवन के बाद नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना स्मार्ट सिटी के अतंर्गत इन्दिरा मार्केट पहुंचे, जहां वेंडिग जोन में पोर्टेबल शॉप्स का फीता काटकर उद्घाटन किया। 15 दुकानदारों को शॉप की चाबी भी सौंपी। इंदिरा मार्केट में 80 पोर्टेबल शॉप हैैं। उप सभापति अतुल कपूर ने बताया कि अभी तक कुछ डाक्यूमेंट्स पूरे नहीं हो पाए। बचे दुकानदारों को बाद में चाबी सौंपी जाएगी।

एक्सपो का किया उद्घाटन

इंदिरा मार्केट का उद्घाटन करने के बाद नगर विकास मंत्री बरेली क्लब पहुंचे, जहां फाउंडेशन ऑफ बरेली आर्किटेक्ट्स के तत्वावधान में बिल्डिंग मटीरियल एवं प्रौद्योगिकी प्रदर्शनी विल्ड एक्सपो का उद्घाटन किया। जिसके बाद मंत्री सुरेश खन्ना गजरौला के लिए रवाना हो गए।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.