इकाना स्टेडियम के करीब पड़े ब्रीफकेस में मिली युवती की लाश सनसनी

2019-01-22T10:37:55Z

उत्तर प्रदेश की राजधानी में झाडि़यों में पड़े ट्रॉली बैग में 22 साल की युवती का शव मिलने से सनसनी फैल गई

- शहीद पथ पर रोड किनारे झाडि़यों में पड़ा था नीले रंग का ट्रॉली बैग

- पहचान छिपाने के लिये चेहरा जलाया, नहीं हो सकी शिनाख्त

- कपड़े थे अस्त-व्यस्त, रेप के बाद हत्या की आशंका

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: गोसाईगंज के शहीद पथ स्थित अटल बिहारी इकाना इंटरनेशनल स्टेडियम के करीब झाडि़यों में पड़े ट्रॉली बैग में 22 साल की युवती का शव मिलने से सनसनी फैल गई. उसके शरीर पर मौजूद कपड़े अस्त-व्यस्त थे और पहचान छिपाने के लिये चेहरा जलाया गया था. घटना की सूचना मिलने पर भारी पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची. वहां जुटे स्थानीय लोगों से मृतका की शिनाख्त कराने कोशिश की गई लेकिन, उसकी शिनाख्त न हो सकी. प्रत्यक्षदर्शियों ने युवती की रेप के बाद हत्या की आशंका जताई है. हालांकि, पुलिस अधिकारी अभी इस पर कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं.

चरवाहों ने दी सूचना
अटल बिहारी वाजपेयी इकाना इंटरनेशन स्टेडियम के करीब गोमती पुल के नीचे सोमवार शाम चरवाहे अपने मवेशी चरा रहे थे. इसी दौरान एक चरवाहे की नजर झाडि़यों में पड़े नीले रंग के ट्रॉली बैग पर पड़ी. उसने आसपास मौजूद अन्य चरवाहों को इसकी जानकारी दी. वे सभी मौके पर पहुंचे पर, कोई भी बैग को खोलने की हिम्मत न जुटा पाया. आखिरकार, चरवाहों ने एचसीएल पुलिस चौकी पर इसकी सूचना दी. जिसके बाद एचसीएल चौकी इंचार्ज हमराह फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और बैग खोला.

भीतर का नजारा देख उड़े होश
बैग खुलते ही उसके भीतर का नजारा देख वहां मौजूद सभी लोगों के होश उड़ गए. बैग में 22 साल की युवती का शव भरा हुआ था. युवती का चेहरा किसी ज्वलनशील पदार्थ से जलाया गया था ताकि, उसकी पहचान न हो सके. उसके शरीर पर काले रंग की वूलेन लेगिंग, भूरे रंग के दो स्वेटर मौजूद थे. उसके बाएं हाथ में मेंहदी लगी हुई थी. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि युवती के शरीर पर मौजूद कपड़े बेहद अस्त-व्यस्त स्थिति में थे, जिन्हें देखकर प्रतीत हो रहा था हत्या से पहले उसके संग रेप किया गया था. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है.

कुत्ते नोच रहे थे ट्रॉली बैग
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि पुल के नीचे घनी झाडि़यां हैं. इन्हीं झाडि़यों के बीच में ट्रॉली बैग पड़ा था. बताया कि झाडि़यों के बीच पड़े बैग पर आसानी से किसी की नजर न पड़ती लेकिन, बैग को कुत्ते नोच रहे थे. इसी वजह से एक चरवाहा माजरा समझने के लिये झाडि़यों के बीच पहुंचा जहां उसने बैग पड़ा देखा.

शादी समारोह में गई थी युवती!
युवती के शरीर पर लेगिंग व स्वेटर मौजूद थे जबकि, उसके हाथ में मेंहदी लगी हुई थी. जिसके चलते आशंका जताई जा रही है कि युवती किसी शादी समारोह में गई हुई थी, जहां से उसे हत्यारों ने अगवा कर उसकी हत्या कर दी और शव को ट्रॉली बैग में भरकर शहीद पथ किनारे फेंक कर फरार हो गए.

आसपास के जिलों में पड़ताल शुरू
इंस्पेक्टर गोसाईगंज अजय प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि युवती के शव की शिनाख्त नहीं हो पाई है. शव एक दिन पुराना लग रहा है. आशंका है कि युवती राजधानी के आस-पड़ोस के जिले की हो सकती है, जहां हत्यारों ने उसे मौत के घाट उतारा और शव को शहीद पथ पर सूनसान जगह पर लाकर फेंककर फरार हो गए. इसी के मद्देनजर राजधानी के आसपास के जिलों में गुमशुदा युवतियों के बारे में पड़ताल की जा रही है.


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.