लद्दाख बॉर्डर पर भारत व चीनी सैनिकों में हुई भिड़ंत भारतीय सेना बोली स्थिति सामान्य हो गई

2019-09-12T11:30:09Z

भारत और चीनी सैनिकों के बीच बुधवार को लद्दाख बॉर्डर पर बीच भिड़ंत हो गई। हालांकि प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत के बाद यह मामला खत्म हो गया है।

नई दिल्ली (एएनआई)। पाकिस्तान के साथ तनाव के बाद अब भारत और चीन सीमा पर तनाव बढ़ने की चर्चा है। बुधवार को दोनों देशों भारत और चीन के सैनिकों के बीच लद्दाख बॉर्डर धक्का-मुक्की की खबरें आई हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई ने भारतीय सेना के हवाले से ट्वीट किया कि पैंगोंग झील के उत्तरी किनारे के पास दोनों सेनाओं का आमना-सामना हुआ। कहा जा रहा है कि भारत द्वारा चीन की सीमा पर किए गए एक बड़े सैन्य अभ्यास के बाद भारतीय और चीनी सेना के सैनिक एक दूसरे से टकराए थे।

Indian Army: There was a face off between soldiers of Indian Army and Chinese Army near the northern bank of the Pangong lake. The face off was over after the delegation level talks between two sides there. De-escalated & disengaged fully after delegation level talks yesterday. pic.twitter.com/dZY9Mp04l2

— ANI (@ANI) September 12, 2019


बातचीत के बाद स्थिति सामान्य हुई
भारतीय सेना ने एक बयान में कहा दोनों पक्षों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर पर बातचीत के बाद स्थिति सामान्य हो गई है। भारत और चीन नियंत्रित तिब्बत क्षेत्र के बीच फैली हुई 130 किमी से अधिक की जमीन पर अपना अधिकार बताते हैं। संयोग से टकराव उसी क्षेत्र में हुआ, जहां भारतीय और चीनी सैनिकों ने डोकलाम गतिरोध के दौरान नोक-झोंक की थी। वहीं यह बात भारतीय सेना द्वारा अरुणाचल प्रदेश में चीनी सेना की घुसपैठ की खबरों का खंडन करने के कुछ दिनों बाद सामने आई है।

Ladakh: Indian, Chinese soldiers engage in face-off near Pangong Tso Lake
Read @ANI Story | https://t.co/b7S4GbfZq1 pic.twitter.com/Bw2AC4JknE

— ANI Digital (@ani_digital) September 12, 2019

अमेरिका-चीन में जल्द खत्म हो सकता है ट्रेड वार, 16 सामानों पर छूट देगा चीन
भारत युद्धाभ्यास की तैयारी कर रहा
भारत चीन के साथ सीमाओं के साथ तेजी से बुनियादी ढांचे का निर्माण कर रहा है जिसने काफी समय पहले विवादित लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल के अपने पक्ष का आधुनिकीकरण किया था। भारतीय सेना भारत-चीन बॉर्डर के नजदीक अरुणाचल प्रदेश में बड़े स्तर पर एक युद्ध अभ्यास करने की तैयारी कर रही है। इस युद्धाभ्यास का नाम हिमविजय है। इसमें  वायु सेना और सेना संयुक्त रूप से भारतीय सीमा के भीतर वास्तविक युद्ध परिदृश्य का अभ्यास करेंगे, जो पूर्वी मोर्चे पर एक लड़ाई होगी।

 

 

Posted By: Shweta Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.