कांवड़ यात्रा में संवेदनशील स्थलों पर रहेगी नजर

2019-07-15T11:00:22Z

कांवड़ यात्रा को लेकर पुलिस सर्तक, हाइवे पर खास चौकसी

गत दिनों की घटनाओं को ध्यान में रखकर वर्कआउट कर रही पुलिस

Meerut। कांवड़ यात्रा के दौरान मेरठ के संवेदनशील स्थानों पर पुलिस की खुफिया नजर रहेगी। खासकर हाइवे और उसके आसपास के गांवों और कस्बों में यात्रा के दौरान पुलिस की नियमित गश्त रहेगी। एडीजी जोन प्रशांत कुमार के निर्देश पर मेरठ पुलिस ने कांवड़ यात्रा के दौरान सुरक्षा का ब्लू प्रिंट तैयार कर लिया है तो वहीं संवेदनशील स्थानों को चिह्नित किया गया है।

संवेदनशील घटनाओं का लेंगे संज्ञान

एसएसपी ने बताया कि गत दिनों जनपद में हुई संवेदनशील वारदातों को संज्ञान में लिया जाएगा। खासकर एनएच-58 के आसपास के गांवों, कस्बों और रिहायशी इलाके पुलिस के रडार पर हैं। गौरतलब है कि गत दिनों कंकरखेड़ा थानाक्षेत्र में शोभापुर समेत कई अन्य गांवों में आपराधिक वारदातें पुलिस के लिए चुनौती बनी थीं। कांवड़ यात्रा के दौरान ऐसे संवेदनशील प्रकरण जो किसी विवाद का कारण बन सकते हैं, उनकी तह तक जाने के निर्देश कप्तान ने थाना प्रभारियों को दिए हैं। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि इन प्रकरणों पर कार्रवाई की यथास्थिति को खंगाल लिया जाए। कोई भी ऐसा मुद्दा कांवड़ यात्रा के दौरान न उठे, जिससे सांप्रदायिक या जातीय विवाद को हवा मिले।

बनेंगी अस्थायी चौकियां

कांवड़ यात्रा के दौरान कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ अस्थायी चौकियां और वॉच टावर स्थापित किए जाएंगे। इसके तहत संवेदनशील स्थलों को चिह्नित कर लिया गया है तो वहीं मेरठ में मिश्रित आबादी क्षेत्रों में कड़ी चौकसी बरती जाएगी। एसएसपी ने यात्रा मार्ग पर कांवड़ शिविरों के अलावा अन्य सार्वजनिक स्थलों पर ज्यादा लोगों के जमावड़े पर रोक लगा दी है। किसी भी अफवाह पर तत्काल कार्रवाई के निर्देश एसएसपी ने पुलिस को दिए हैं। बता दें कि डीएम अनिल ढींगरा और एसएसपी अजय कुमार साहनी के निर्देशन में कांवड़ मार्ग पर सुरक्षा और व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई जा रही हैं। एसएसपी ने कावंड़ यात्रा मार्ग पर औद्योगिक क्षेत्रों में रह रहे संगठित कामगारों के वेरीफिकेशन के निर्देश थाना पुलिस को दिए हैं।

कांवड़ यात्रा को लेकर सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कर ली गई है। संवेदनशील स्थलों पर अस्थायी पुलिस चौकी के साथ-साथ वॉच टावर लगाए जाएंगे। धारा 144 के अनुपालन के निर्देश जनसामान्य को हैं, यात्रा के दौरान सार्वजनिक स्थलों पर भीड़ को नहीं जुटने दिया जाएगा। गत दिनों हुई घटनाओं पर भी थाना पुलिस को संज्ञान लेने के निर्देश दिए गए हैं।

अजय कुमार साहनी, एसएसपी, मेरठ

गेस्ट हाउस में बनेगा अस्थायी अस्पताल

कांवड यात्रा के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग भी अपनी तैयारियों में जुट गया है। इस संबंध में सीएमओ डॉ। राजकुमार ने बताया कि विभाग की ओर से इस बार 35 स्वास्थ्य जांच शिविर बनाए जाएंगे। इसकी रणनीति तैयार कर ली गई है। इसके अलावा नहर पर सिंचाई विभाग के गेस्ट हाउस में अस्थायी अस्पताल भी तैयार करवाए जाएगा। वहीं सीएचसी, पीएचसी व अर्बन हेल्थ सेंटर्स पर अतिरिक्त स्टॉफ को तैनात किया जाएगा। साथ ही 20 अतिरिक्त एंबुलेंस की भी व्यवस्था की गई है।

एक नजर में

कांवड़ मार्ग के तहत आने वाले करीब 40 प्राइवेट अस्पतालों को भी अलर्ट जारी किया गया है।

सभी अस्पतालों में विभाग ने 5-5 बेड रिजर्व रखने के निर्देश दिए हैं।

जिला अस्पताल में 10 और मेडिकल कॉलेज की इमरजेंसी में 10 और अलग से 20 बेड रिजर्व किए गए हैं।

सभी अस्पतालों में दवाइयों का स्टॉक भी पूरा किया जा रहा है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.