अब चलती ट्रेन में मिलेगी मेडिकल हेल्प पैसेंजर्स को राहत

2019-06-20T10:41:13Z

साथ में लगेगी कंपाउंडर की ड्यूटी हर डिब्बे में होगा मेडिकल किट। रेल मंत्रालय ने बीमार पैसेंजर्स को राहत देने के लिए की पहल

gorakhpur@inext.co.in

GORAKHPUR: पैसेंजर्स को राहत देने के लिए रेलवे लगातार कोशिशों में लगा है. सफर के दौरान पैसेंजर्स को किसी तरह की प्रॉब्लम न आए और उन्हें तत्काल मेडिकल रीलिफ मिल जाए, इसके लिए रेलवे ने पहल की है. अब तक जो मेडिकल किट गार्ड और ड्राइवर के पास हुआ करती थी और लोगों को फ‌र्स्ट एड के लिए भी अगले स्टेशन का इंतजार करना पड़ता था, अब उन्हें यह सुविधा दौड़ती ट्रेन में भी मिलने लगेगी. रेलवे ने रनिंग ट्रेंस में भी मेडिकल किट और पैरा मेडिकल स्टाफ भेजने की तैयारी शुरू की है. देश की कुछ ट्रेंस में फैसिलिटी शुरू भी हो चुकी है, जिसकी जानकारी रेलवे मिनिस्ट्रेशन ने ट्वीटर पर वीडियो अपलोड कर दी है. जल्द यह सुविधा देश की दूसरी ट्रेंस में भी मिलने लगेंगी.

पेंट्रीकार में भी शुरू की गई सुविधा
मेडिकल फैसिलिटी की बात करें तो एनई रेलवे के साथ ही देश की दूसरे रेलवे जोन से दौड़ने वाली ट्रेंस में इसको बेहतर बनाने पर जोर है. एनईआर की कुछ ट्रेंस, जिसमें पेंट्री कार लगाई जाती है, अब इसमें भी फ‌र्स्ट एड किट रखा जा रहा है, यह ऑगमेंटेड फ‌र्स्ट एड बॉक्स सिर्फ प्रोफेशनल मेडिकल प्रैक्टिशनर्स को ही दिया जा रहा है. अगर कोई मेडिकल प्रोफेशनल नहीं है, तो पैसेंजर्स को अब भी अगले स्टेशन का इंतजार करना पड़ रहा है. मगर इस फैसिलिटी के शुरू होने के बाद लोगों को काफी राहत मिलेगी और उन्हें फ‌र्स्ट एड के लिए अगले स्टेशन का इंतजार नहीं करना पड़ेगा.

अभी एनईआर की ट्रेंस में सुविधा नहीं
एनईआर ट्रेंस की बात करें तो अभी यहां की ट्रेंस में यह सुविधा शुरू नहीं हुई है. ऐसा इसलिए कि अब इस संबंध में कोई सर्कुलर विभाग को नहीं मिला है. वहीं सोर्सेज की मानें तो इसे पाइलट प्रोजेक्ट के तौर पर कुछ चुनिंदा ट्रेंस में शुरू किया गया है, यह प्रयोग अगर सफल होता है, तो इसे दूसरी ट्रेंस में भी लागू कर दिया जाएगा. फिलहाल यहां के लोगों को भी सर्कुलर का इंतजार है, जिसके बाद यह सर्विस गोरखपुर और आसपास की ट्रेंस में भी लागू हो जाएगी.

इनके पास है फ‌र्स्ट एड

लोको पाइलट

गार्ड

पेंट्री कार

स्टेशन मास्टर

बॉक्स -

जल्द ही मल्टीपरपज स्टॉल भी
गोरखपुर जंक्शन ए-1 कैटेगरी के जंक्शन में आता है. रेलवे मिनिस्ट्री ने सभी ए-1 गे्रड के स्टेशंस पर मल्टी परपज स्टॉल खोलने के लिए हरी झंडी दे दी है. इन स्टॉल्स पर पैसेंजर्स की जरूरत से जुड़े साजो-सामान के साथ ही फ‌र्स्ट एड बॉक्स, मेडिकल किट और दवाएं भी मौजूद रहेंगी. पहले स्टेशन पर मेडिकल स्टोर की सुविधा थी, लेकिन बाद में इसे खत्म कर दिया गया था, अब पैसेंजर्स की डिमांड पर फिर से इसे शुरू किया जा रहा है.

मेडिकल किट में यह होगी सुविधाएं

प्रसव किट

ऑक्सीजन सिलेंडर

लैरिंगोस्कोप्स

कैथिटर

सिरिंज

गोलियां

स्पिलिंट्स

सभी तरह की पट्टियां

मरहम

ऑक्सीजन डीफिब्रिलैटर

वर्जन

एनई रेलवे में सभी गार्ड, ड्राइवर और पेंट्रीकार में यह सुविधा मौजूद है. वहीं स्टेशन मास्टर के पास भी फ‌र्स्ट एड किट रखा जाता है. आगे जैसा बोर्ड और मिनिस्ट्री का निर्देश होगा, उसका अनुपालन कराया जाएगा.

-पंकज सिंह, सीपीआरओ, एनई रेलवे

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.