दो घंटे की बारिश में तालाब बना एरिया

2019-08-25T06:00:46Z

-नाला चोक होने से घरों में घुसा पानी, सुनवाई नहीं होने से पब्लिक परेशान

PRAYAGRAJ: दस दिन भी नहीं बीते कि शनिवार को बेनीगंज से लेकर जाफरी कालोनी तक हजारों घरों में नाले का पानी घुस गया। इसके पहले भी यही हालात बने थे। लोगों का कहना है कि इस साल नाला सफाई के नाम पर महज खानापूर्ति की गई है। जैसे ही जोरदार बारिश होती है, नाले का पानी ओवरफ्लो होकर घरों में प्रवेश कर जाता है।

सुबह उठे तो भरा था पानी

शहर पश्चिमी एरिया में यह नाला बाबा मार्केट से लेकर जाफरी कालोनी तक जाता है। बीच में बेनीगंज, चकिया सहित आधा दर्जन मोहल्ले भी आते हैं। इस नाले से हजारों घरों का पानी गुजरता है। इस साल दस दिन के भीतर शनिवार को दूसरी बार भारी बारिश होने के बाद नाला ओवरफ्लो कर गया। ऐसे में नाले का पानी आस-पास के घरों में घुस गया। इससे लोगों की मुसीबत बढ़ गयी। घंटों बाद यह पानी धीरे-धीरे घरों से बाहर निकला। लेकिन सड़के लबालब होने से लोगों का आना-जाना मुहाल हो गया।

ऐसे तो गिर जाएंगे घर

बेनीगंज के रहने वाले निगम चंद्र तिवारी के घर में शनिवार को दूसरी बार नाले का पानी घुस गया। इससे उनका बिस्तर और तमाम कीमती सामान खराब हो गए। वह कहते हैं कि बार-बार ऐसा होने से उनका घर गिर जाएगा। ऐसे में उनके नुकसान की भरपाई कौन करेगा। इसी तरह चकिया के सुरेश वर्मा के गेट के बाहर नाले का पानी लग जाने से उनका निकलना मुश्किल रहा। चकिया के राजीव सिंह की दीवार के नीचे पानी भर जाने से वह परेशान नजर आए।

जांच का विषय बनी नाले की सफाई

इस साल भी नाले की सफाई का टेंडर कराया गया था। ठेका लेने वाली फर्म को सफाई के एवज में आठ लाख रुपए दिए जाने हैं। बताया जाता है कि खुद नगर आयुक्त भी नाले की साफ-सफाई को लेकर उठने वाले सवालों को लेकर गंभीर हैं। अगर नाला प्रॉपर साफ किया गया तो फिर बार-बार बारिश में यह चोक क्यों हो रहा है।

वर्जन

नाले की सफाई कराई जा चुकी है। अगर बार-बार ओवर फ्लो हो रहा है तो इसको दिखवाया जाएगा। लोगों की समस्या को जल्द दूर किया जाएगा।

-उज्जवल कुमार, नगर आयुक्त

इस तरह से बार-बार पानी भरना ठीक नहीं है। इससे लोगों के घरों में गंदगी फैल रही है और आवागमन खराब हो हा है। नाले की जल्द सफाई होनी चाहिए।

-अमीन वारसी

महज दो घंटे की बारिश के बाद सुबह उठकर देखा तो नाला चोक था। चौराहों से लेकर सड़क तक पानी भरा हुआ था। दोपहर बाद भी पानी का लेवल कम नही हुआ।

-सैफ हुदा

नगर निगम को नाले की सफाई के काम को गंभीरता से लेना चाहिए। इस तरह से नाले साफ होंगे तो आम आदमी को परेशानी होना लाजिमी है।

-शाह सऊद अहमद

वर्जन

पार्षद को बोला गया है कि वह मौके पर जाकर नाले की सफाई कराएं। अगर जल्द समस्या का समाधान नहीं होता है तो दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

-अभिलाषा गुप्ता नंदी, मेयर


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.