अखिलेश यादव को रोकने को लेकर प्रयागराज में जमकर हुआ उपद्रव

2019-02-13T11:10:50Z

लोगों को पुलिस ने किया शांति भंग में पाबंद सांसद भी शामिल

2.15

मिनट पर सपा कार्यकर्ताओं के धरने से हुई घटनाक्रम की शुरुआत

2.30

बजे पुलिस की गुजारिश पर नहीं हटे तो पुलिस ने चलानी शुरू की लाठी

4.00

बजे तक बालसन से लेकर लल्ला चुंगी तक सड़क पर चला उपद्रव

04

सांसद धर्मेन्द्र यादव, नागेन्द्र सिंह पटेल, प्रवीण निषाद और नीरज शेखर को भी लगी लाठी

02

वर्तमान विधायक संग्राम यादव, रामवृक्ष यादव

02

पूर्व मंत्री रामाश्रय विश्वकर्मा और पूर्व विधायक ओम प्रकाश सिंह

11

गाडि़यां पथराव से हुई क्षतिग्रस्त

06

पुलिसवाले हुए चोटिल, एक सीओ व एक दरोगा भी शामिल

12

लोग घायल हुए पुलिस की लाठीचार्ज में

187

prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ: इलाहाबाद यूनिवर्सिटी छात्र संघ की ओर से आयोजित वार्षिकोत्सव समारोह में शामिल होने से सपा मुखिया अखिलेश यादव को रोकने को लेकर जमकर उपद्रव हुआ. नाराज सपा कार्यकर्ताओं ने पथराव करके दर्जन भर वाहनों और गमलों-दुकानों को क्षतिग्रस्त कर दिया तो पुलिस ने जमकर लाठियां चलायीं. पथराव और पुलिस के बल प्रयोग में डेढ़ दर्जन के घायल हो गये. इसमें सांसद और सीओ भी शामिल हैं. लल्ला चुंगी से लेकर बालसन चौराहे के बीच चौतरफा चले उपद्रव से दुकानें बंद हो गयीं. आवागमन आलमोस्ट ठप हो गया. पुलिस ने सांसद-विधायकों समेत कुल 187 लोगों को हिरासत में ले लिया. यह तब हुआ जब प्रशासन ने एक दिन पहले ही प्रोग्राम में किसी राजनीतिक दल के नेता के शामिल होने की अनुमति देने से इंकार कर दिया था.

शांति भंग की आशंका पर 187 लोगों को हिरासत में लिया गया था. सपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर पथराव किया. इस पर पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा. सभी से अपील है कि वह शहर में शांति व्यवस्था बनाए रखे और कानून को अपने हाथ में न लें.

-एसएन साबत, एडीजी जोन


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.