अपने बच्‍चों की मदद से एंजेलिना ने गोद लिया कंबोडियन परिवार

Updated Date: Thu, 12 May 2016 01:46 PM (IST)

यूं तो स्‍टार कपल एंजेलिना जोली और ब्रैड पिट अपने चैरिटी वर्क और समाजिक सरोकारों के लकए काफी प्रसिद्ध हैं हीं पर अब उन्‍होंने ये संस्‍कार अपने बच्‍चों में भी स्‍थानांतरित कर दिए हैं। तभी तो उनके बच्‍चों ने एक गरीब कंबोडियन परिवार को गोद लेकर उसके बच्‍चों को स्‍कूल भेजने और खुशहाल जीवन के लिए गोद लेने में अपने माता पिता की मदद की है।

बच्चों के कारण मिला कंबोडियन परिवार
जब एंजेलिना जोली के निर्देशन में बन रही फिल्म फर्स्ट दे किल्ड माई फादर की शूटिंग के लिए पिछले साल जोली और ब्रैड पिट सपरिवार कंबोडिया में मौजूद थे तो उनके बच्चों की मुलाकात 16 की लीडा शॉन और उसके बहन भाइयों से हुई। बच्चे कंबोडिया में आने वाले पर्यटकों से पैसे मांग कर गुजारा करने वाले लिंडा के परिवार से मिले। वहां पिट ने उन बच्चों आइसक्रीम भी खिलायी पर जाहिर है कि ये काफी नहीं था। तब उनके बच्चों 11 साल की जाराह और 9 साल की शिलोह ने अपने कंबोडियन मित्रों की सकारात्मक मदद का फैसला किया।

बेहद गरीब था ये परिवार
लीडा का परिवार बेहद गरीब था उसके माता पिता अपने 19 साल से लेकर 16 महीने तक की उम्र वाले 12 बच्चों के साथ कंबोडिया के एक शहर के स्लम में एक झोंपड़ी में रहते थे। कंबोडिया के कई साधनहीन परिवारों की तरह उनके परिवार को भी सरकार और कुछ समाजसेवी संस्थाओं की ओर से खाना और जरूरत की कुछ चीजें मुहैया करायी जाती थीं। तब एंजेलीना की बेटियों ने उनकी मदद का फैसला किया।

सीखा कैसे की जाती है मदद
लीडा के परिवार को देख कर जोली की बेटियों जाराह और शिलोह को असल जिंदगी की सच्चाई समझ में आयी और उनकी मदद को फैसला करके उन्होंने किसी साधनहीन की सहायता का सही तरीका भी सीखा। उन्होंने बच्चों को खाना, कपड़े नयी साइकिलें उपलब्ध करायीं। उस समय लीडा और उसके भाई बहन स्कूल जाने से भी कतराते थे। हालाकि वो पढ़ना चाहते थे।

अगले कदम के लिए आगे आये एंजेलीना और पिट
यहां से अगला कदम उठाने का फैसला किया जोली और पिट ने। लीडा और उसके सिबलिंग्स को गवरमेंट स्कूल में पढ़ने के लिए पैसे मिलते थे पर फिर भी उसे उनके लिए ये मंहगा था क्योंकि एक तो उनके घर से स्कूल दूर था और वो वहां तक चल कर नहीं जा सकते थे जबकि सवारी मंहगी पढ़ती थी। फिर उन्हें हर सब्जेक्ट के लिए हर बच्चे पर प्रति माह पांच डालर देने होते थे जो उनके लिए संभव ही नहीं था। जबकि वो खुद पढ़ लिख कर अपने परिवार को सम्मान दिलाना चाहती थी। यहां पर आगे आये पिट दंपत्ति। उन्होंने लिंडा सहित सब बच्चों का उस क्षेत्र के सबसे अच्छे स्कूल न्यूयॉर्क इंटरनेशनल स्कूल कंबोडिया में एडमीशन कराया।

अब सुचारू रूप से जारी है पढ़ाई
अब ये सारे बच्चे इस बेहतरीन स्कूल में जाते हैं। जहां ले जाने के लिए हफ्ते में पांच दिन सुबह पांच दिन बस आती है और वो वहां शाम पांच बजे तक कड़ी मेहनत से पढ़ाई करते हैं। स्कूल में उन्हें दोपहर का खाना भी मिलता है। ब्रैंजलीना के बच्चों ने इन बच्चों के लिए एथलीटिक शूज और यूनिफार्म भी अरेंज करके दी है। सभी बच्चे बहुत खुश हैं।

जोली और पिट ने भी गोद लिए हैं बच्चे
2005 में फिल्म मिस्टर एण्ड मिसेज स्मिथ में काम करने के दौरान ब्रैड पिट और एंजेलीना जोली एक दूसरे के करीब आये और तबसे एक दूसरे के साथ हैं। उनके छह बच्चे हैं जिनमें से तीन के वे बायलॉजिकल माता पिता हैं और तीन को उन्होंने दुनिया के विभिन्न शहरों से गोद लिया है। जराह और शिलोह भी गोद ली हुई बेटियां ही हैं। पिछले साल पिट और जोली ने बच्चों की खुशी के लिए विधिवत शादी कर ली है। उनकी शादी में उनके छहों बच्चे शामिल हुए थे।

Hollywood News inextlive from Hollywood News Desk

Posted By: Molly Seth
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.