अयोध्या में 'राम बारात' हुई रद, कोविड-19 की वजह से हुआ ये डिसीजन

Updated Date: Sat, 28 Nov 2020 03:45 PM (IST)

अयोध्या में मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के बारात कार्यक्रम को इस साल कोविड-19 महामारी की वजह से रद करने का फैसला किया गया है। अयोध्या में राम बारात धर्म यात्रा महासंघ और विश्व हिंदू परिषद मिलकर निकालते हैं ।

अयोध्या (एएनआई)। उत्तर प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण की वजह से अयोध्या में निकलने वाली राम बारात का सारा उत्साह इस साल फीका पड़ गया है। कोरोना वायरस के मामलों में निरंतर वृद्धि के बीच अयोध्या में शनिवार के लिए पहले से निर्धारित शुभ 'राम बारात' को रद कर दिया गया है। इस आयोजन को रद करने का निर्णय धर्म यात्रा महासंघ और विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) द्वारा कोविड -19 मामलों को देखते हुए लिया गया है। वर्तमान में यूपी 25639 कोविड-19 के मामले देखे गए हैं।

We have decided to cancel the 'Barat' this year. We have urged people to observe the celebration at their homes and temples, light earthen lamps, blow conch shell, chant holy mantras and hoist flag: Sharad Sharma, spokesperson, Vishva Hindu Parishad https://t.co/02h2IZTFk3 pic.twitter.com/RGrZs8y6RP

— ANI UP (@ANINewsUP) November 27, 2020


इस साल राम बारात को रद करने का फैसला किया
विहिप के प्रवक्ता शरद शर्मा के अनुसार, संगठन ने इस साल राम बारात को रद करने का फैसला किया। हमने लोगों से घरों और मंदिरों में उत्सव मनाने, हल्के मिट्टी के दीपक, शंख बजाने, मंत्रों का जाप करने और ध्वजारोहण करने का आग्रह किया है। राम बारात अयोध्या में विभिन्न मंदिरों से हर पांच साल में एक बार कारसेवकपुरम से जनकपुर तक ले जाई जाती है। इसमें संत समाज व श्रद्धालु बड़ी संख्या में ढोल की धुन पर नाचते-गाते बरात लेकर अयोध्या से माता सीता की नगरी जाते हैं।

Posted By: Shweta Mishra
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.