CTET Exam एसटीएफ के हत्थे चढ़ा सॉल्वर 25 हजार में हुआ था सौदा

2019-07-08T10:42:01Z

सीबीएसई की ओर से रविवार को आयोजित सीटेट परीक्षा में एसटीएफ ने बड़ी कार्रवाई करते हुए सॉल्वर गैंग के मेंबर को अरेस्ट कर लिया

-धूमनगंज में एक सेंटर पर दूसरे के स्थान पर दे रहा था परीक्षा

-सॉल्वर गैंग के मुखिया और वास्तविक अभ्यर्थी की तलाश में जुटी एसटीएफ

prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ : एसटीएफ ने आरोपी को धूमनगंज एरिया में परीक्षा केन्द्र सैनिक बाल विकास बालिका इंटर कालेज में दूसरे के स्थान पर परीक्षा देते हुए गिरफ्तारी की. एसटीएफ के हत्थे चढ़ा सॉल्वर गैंग का सदस्य देवेंन्द्र कुमार पाल, जौनपुर का निवासी है. जबकि सॉल्वर गिरोह का मुखिया टीएन पटेल और अभ्यर्थी आशीष पटेल फिलहाल फरार हैं. दोनों के खिलाफ धूमनगंज थाने में मुकदमा दर्ज कर तलाश एसटीएफ जुट गई.

25 हजार में हुआ था सौदा
एसटीएफ के अधिकारियों को सीटेट को लेकर सॉल्वर गिरोह के सक्रिय होने की सूचना मिली थी. इसके बाद एएसपी नीरज पांडेय और एसटीएफ के सीओ नवेन्दु कुमार अपनी टीम के साथ पुराने सॉल्वर गिरोह की तलाश में जुट गए. इस दौरान एसटीएफ टीम ने कई जगह छापेमारी की. संदिग्धों से पूछताछ में पता चला कि सॉल्वर बैठाने का ठेका टीएन पटेल ने सॉल्वरों को दिया है. जांच के बाद रविवार को एसटीएफ ने धूमनगंज थाना क्षेत्र के कालिंदीपुरम इलाके में सैनिक बाल विकास बालिका इंटर कालेज परीक्षा केंद्र पर दबिश देकर देवेंद्र कुमार पाल पुत्र गयादीन पाल निवासी रामपुर, सकरा, मछलीशहर, जौनपुर को गिरफ्तार कर लिया. सीओ नवेन्दु कुमार ने बताया कि देवेंद्र दस साल से मधवापुर, बैरहना में रहकर सॉल्वर बैठाने वाले गिरोह के लिए काम कर रहा था. वह अभ्यर्थी आशीष पटेल पुत्र राम निवास पटेल निवासी मुआर आधारगंज, रानीगंज, प्रतापगढ़ की जगह परीक्षा दे रहा था. सोहबतियाबाग का रहने वाला टीएन पटेल तमाम भर्ती परीक्षाओं में सॉल्वर बैठाने का ठेका लेता है. देवेंद्र पाल को उसने 25 हजार में दूसरे के स्थान पर परीक्षा देने का ठेका दिया था. इसके लिए उसे पांच हजार रुपए एडवांस भी मिले थे.

09 मार्च 2019

एसटीएफ ने उत्तर प्रदेश सिविल कोर्ट स्टाफ केंद्रीयकृत टाइपिस्ट पद की परीक्षा में बैठाए गए सॉल्वर को सेंटर से पकड़ा था.

24 दिसंबर 2018

ग्राम पंचायत अधिकारी व ग्राम विकास अधिकारी परीक्षा में सॉल्वर बैठाने का प्लान बना रहे गैंग के दो सदस्यों को एसटीएफ ने दबोचा था.

14 दिसंबर 2018

रेलवे ग्रुप डी परीक्षा में दूसरे अभ्यर्थी की जगह परीक्षा देने पहुंचे दो साल्वरों को गिरफ्तार किया गया था.

30 जुलाई 2018

सहायक शिक्षक भर्ती परीक्षा में , इलाहाबाद से सॉल्वर गैंग के 12 लोग पकड़े गए थे.

18 जून 2018

प्रतियोगी परीक्षाओं में ठेका लेकर पास करवाने वाले एक सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़ करते हुए छह लोग अरेस्ट किए गए थे.


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.