'स्वच्छ' वार्डो में भी बेहिसाब गंदगी

2018-12-17T06:00:03Z

सड़कों और पार्को की सफाई तो दूर नाले-नालियां भी गंदगी से अटे

स्वच्छ वार्ड 64 के नाले में जमा पड़ा है गंदगी का ढेर

Meerut। स्वच्छ वार्ड सर्वेक्षण के लिए 10 वार्डो की सूची वेबसाइट पर अपलोड कर निगम ने अपने शहर के जीत की दावेदारी भले ही पेश कर दी हो लेकिन यह दावेदारी केवल खानापूर्ति तक ही सीमित है। निगम ने 30 दिन तक शहर के वार्डो में आधी-अधूरी तैयारी के बाद आनन-फानन में 10 वार्डो को चयनित कर उनकी सूची तो वेबसाइट पर अपलोड कर दी लेकिन अभी तक इन वार्डो में सफाई व्यवस्था अधर में लटकी है। वार्डो की सड़कों और पार्को की सफाई तो दूर नाले नालियां तक गंदगी से अटे हुए हैं। ऐसे में निगम की यह लापरवाही कहीं स्वच्छ वार्ड प्रतियोगिता से मेरठ को बाहर ना कर दे।

निगम के दावों पर सवाल

प्रदेश स्तर पर 15 नवंबर से 15 दिसंबर तक आयोजित स्वच्छ वार्ड प्रतिस्पर्धा जीतने के लिए जनपद के नगर निगम, नगर पंचायत और नगर निकाय के 316 वार्डो में से 10 वार्डो का चयन कर अपलोड किया गया था। इनमें वार्ड 20, 26, 32, 35, 36, 52, 53, 57, 63 और वार्ड 64 शामिल हैं। वेबसाइट पर इन वार्डो की स्वच्छता की तस्वीर के साथ-साथ वार्डो में निगम द्वारा दी जा रही सुविधाओं का बखान किया गया है। मगर वार्डो में जगह-जगह पसरी गंदगी और कूडे़ से अटी नालियां निगम के दावों पर सवाल खड़ा कर रही हैं।

स्वच्छ वार्डो का हाल

शहर के स्वच्छ वार्डो का स्वच्छता के मानकों समेत डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन, पथ प्रकाश व्यवस्था, पार्को की सफाई, कंपोस्टिंग प्लांट, गड्ढा मुक्त सड़क आदि के आधार पर चयन किया गया था। मगर जिन वार्डो की सूची निगम के वेबसाइट पर अपलोड की गई, उनमें से एक भी वार्ड शत-प्रतिशत मानकों पर खरा नहीं है। सभी वार्डो मे सबसे प्रमुख गंदगी की समस्या बनी हुई है। इसके अलावा कंपोस्टिंग यूनिट अभी तक केवल कुछ ही वार्ड में सीमित हैं। इनमें शास्त्रीनगर के वार्ड 26 की दावेदारी प्रबल है। वहीं स्वच्छ वार्ड 64 के नाले में जमी पड़ी गंदगी निगम की पोल खोलने के लिए काफी है।

वार्ड के पार्क, गलियां, सड़क सभी को पूरी तरह से स्वच्छ रखने का प्रयास है। केवल सफाई नायकों की कमी है, जिसके कारण अभी वार्ड की सफाई व्यवस्था प्रभावित हो रही है।

सुनीता राष्ट्रवादी, वार्ड 26

वार्ड में डोर टू डोर से लेकर नियमित सफाई, पार्क का मेंटिनेंस, स्ट्रीट लाइट रिपेयरिंग की जाती है। हमारा वार्ड इस प्रतियोगिता में जीतने का दावेदार है।

निधि शर्मा, वार्ड 58

हमारे वार्ड में रोजाना समय से साफ-सफाई, कूड़ा कलेक्शन आदि का काम किया जा रहा है। कंपोस्टिंग प्लांट की भी जगह निर्धारित कर दी गई है। हमारा वार्ड प्रतियोगिता में स्थान पा सकता है।

सुनीता प्रजापति, वार्ड 64


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.