आज से फ्री बनेगा गोल्डन कार्ड

Updated Date: Mon, 01 Mar 2021 02:38 PM (IST)

05

लाख रुपए तक लाभार्थी को सालाना हेल्थ इंश्योरेंस का मिलेगा कवर

2.5

लाख परिवार प्रयागराज में इस योजना से कवर्ड हैं।

- आयुष्मान योजना के लाभार्थियों को मिली बड़ी राहत

- अभी तक निर्धारित थी फीस, एक कार्ड के लगते थे तीस रुपए

आयुष्मान योजना के लाभार्थियों के लिए राहत भरी खबर है। अब उन्हें गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए शुल्क अदा नहीं करना होगा। यह कार्ड एक मार्च से फ्री बनेगा। बस लोगों को अपने साथ राशन कार्ड लेकर कामन सर्विस सेंटर पर जाना होगा। इस योजना के तहत लाभार्थी को सालाना पांच लाख रुपए तक हेल्थ इंश्योरेंस कवर प्रदान किया जाता है। देशभर में लगभग एक करोड़ और प्रयागराज में ढाई लाख परिवार इस योजना से कवर्ड हैं।

जिले में बनने हैं 18 लाख कार्ड

शासन ने प्रयागराज में 18 लाख गोल्डन कार्ड बनाने का लक्ष्य रखा है। अभी तक लाभार्थियों को कामन सर्विस सेंटर पर जाकर अपना कार्ड बनवाना पड़ता था और बदले में तीस रुपए का भुगतान करना होता था। लेकिन अब यह प्रक्रिया पूरी तरह से फ्री आफ कास्ट होगी। इससे गरीब लाभार्थियों को खासी राहत मिलेगी।

डुप्लीकेट कार्ड बनाने के लिए लगेगा शुल्क

सरकार ने भले ही गोल्डन कार्ड बनवाने की प्रक्रिया को फ्री आफ कास्ट कर दिया है, लेकिन डुप्लीकेट कार्ड बनवाने के लिए 15 रुपए का शुल्क देना होगा। यह कार्ड लाभार्थियों को बायोमेट्रिक आथेंटिकेशन के बाद ही प्रदान किया जाएगा।

एनएचए करेगी भुगतान

लाभार्थी भले ही तीस रुपए का भुगतान नहीं करेंगे लेकिन कामन सर्विस सेंटर्स को प्रत्येक कार्ड बनाने पर नेशनल हेल्थ अथारिटी की ओर से बीस रुपए दिए जाएंगे। लाभार्थियों को पीवीसी कार्ड दिया जाएगा। जिनके पास पुराने कार्ड हैं उनको पीवीसी बनवाने की जरूरत नहीं है। पीवीसी कार्ड बनवाने का उददेश्य यह है कि अधिकारियों को लाभार्थी की पहचान करने में आसानी होगी।

ऐसे बनेगा गोल्डन कार्ड

- आवेदक को अपने नज़दीकी जनसेवा केंद्र जाना होगा। यहां आप अपना नाम आयुष्मान योजना की सूची में देखेंगे।

- अगर आपका नाम आयुष्मान भारत योजना सूची में उपलब्ध होगा तो उन्हें गोल्डन कार्ड दिया जायेगा।

- इसके बाद आपको अपने सभी दस्तावेज़ों जैसे आधार कार्ड, राशन कार्ड, पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि को जन सेवा केंद्र के एजेंट को ले जाकर दें।

- जिससे एजेंट आपका सफल पंजीकरण करेगा और आपको पंजीकरण आईडी देगा।

- फिर जनसेवा केंद्र वाले आपको गोल्डन कार्ड देंगे और बदले में कोई शुल्क नहीं देना होगा।

धीमी है कार्ड बनाने की गति

जिले में गोल्डन कार्ड बनाने की गति काफी धीमी है। इसके कई कारण सामने आ रहे हैं। कई लाभार्थियों का नाम राशन कार्ड में शामिल नहीं है इस वजह से भी वह योजना के लाभ से बाहर हैं। इस कार्ड की संख्या बढ़ाने के लिए ही सरकार ने शुल्क को खत्म कर दिया है। बता दें कई जगह कामन सर्विस सेंटर्स से निर्धारित शुल्क से अधिक वसूलने की सूचना भी मिलने लगी थी।

एक मार्च से आयुष्मान योजना का गोल्डन कार्ड फ्री आफ कास्ट बनाया जाएगा। इसका कोई शुल्क लाभार्थियों से नहीं लिया जाएगा। अब वह कामन सर्विस सेंटर्स पर जरूरी डाक्यूमेंट लेकर जाएं और अपना कार्ड बनवा सकते हैं।

डॉॅ आरसी पांडेय, एसीएमओ, स्वास्थ्य विभाग प्रयागराज

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.