'वोटिंग करना हमारा दायित्व'

Updated Date: Tue, 26 Jan 2021 05:40 PM (IST)

11वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर ई पिक का शुभारम्भ

- सीडीओ ने मताधिकार के प्रयोग के लिए किया प्रोत्साहित

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: 11वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर सोमवार को एमएनएनआईटी ऑडिटोरियम में भव्य आयोजन किया गया। इस मौके पर सीडीओ आशीष कुमार की अध्यक्षता में हुए आयोजन में मतदाताओं को अपने मताधिकार के प्रति जागरूक किया गया। राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर ई पिक का भी शुभारम्भ दीप प्रज्जवलित करके किया गया। इस मौके सीडीओ आशीष कुमार ने कहा कि लोकतंत्र को आगे ले जाने के लिए हमारे कुछ दायित्व व कर्तव्य है। हमारा दायित्व वोट करना है तथा इसके लिए सभी को समान अधिकार प्राप्त है। वोट करके सरकार को चुनने में सबकी समान सहभागिता है। मतदाता दिवस के अवसर मतदाताओं को जागरूकता, स्वीप आदि कार्यक्रम के माध्यम से जागरूक किया जा रहा है।

ई पिक को मतदाता मोबाइल पर कर सकते है स्टोर

राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर आयोजित हुए कार्यक्रम के दौरान सीडीओ ने कहा कि मतदान देश के सभी नागरिक का अधिकार है। उन्होंने बताया कि मतदाता अपने ई पिक को मोबाइल पर स्टोर कर सकता है। नये पंजीकृत मतदाताओं को जारी किये गये पीवीई ई पिक के अतिरिक्त है। इस दौरान चुनाव में तैयार किया गया एलबम का भी विमोचन किया गया।

वोटिंग डे को त्यौहार के रूप में मनाये

कार्यक्रम में ब्रांड एम्बेस्डर आरजे गोविन्द ने बताया कि वोटिंग डे को एक त्यौहार के रूप में मनाये। ब्रांड एम्बेस्डर अभिन्न श्याम गुप्ता ने भी चुनाव में मतदान को लेकर अपने विचार रखे। इस मौके पर डीपीएस कालेज की ग‌र्ल्स ने देश भक्ति से प्रेरित कई गीतों की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम के आखिर में प्रशस्ति पत्र, स्मृति चिन्ह जो एनुअल स्टेट अवार्ड फार बेस्ट इलेक्टोरल प्रैक्टिसेस अवार्ड किया गया। कार्यक्रम का संचालन डॉ। निरंजन सिंह व डॉ। रंजना त्रिपाठी ने किया। धन्यवाद ज्ञापन उप निर्वाचन अधिकारी/एसडीएम प्रशासन वीएस दुबे ने किया। कार्यक्रम मे सभी कर्मचारियों को शपथ दिलाई गई।

फ्यूचर में मतदान को डिजीटली कराना चुनौती

फ्चूयर में मतदान की प्रक्रिया को पूर्णरूप से डिजीटल करना सूचना प्रौद्योगिकी विशेषज्ञों के लिए एक चुनौती है। यह उदगार भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान यानी आईआईआईटी इलाहाबाद के निदेशक प्रो। पी। नागभूषण ने व्यक्त किए। मौका था 11वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम का। संस्थान के झलवा परिसर में हुए आयोजन के दौरान प्रो। नागभूषण ने कहा कि मतदान प्रणाली को और सुलभ एवं दुरुस्त बनाने के लिए सूचना प्रौद्यौगिकी को अच्छे से व्यावहारिक बनाना है। जिससे मतदान का प्रतिशत अधिकतम हो। इसमें संस्थान की भूमिका अग्रणी होनी चाहिए। उन्होंने सुझाव दिया कि मोबाइल, आधार कार्ड, बोटर आईडी कार्ड, ओ.टी.पी। के द्वारा वर्तमान मतदान के जटिल प्रक्रिया को सरलतम एवं सुलभ बनाया जा सकता है। जिससे धन, समय का अपव्यय रोका जा सकता है और दो से तीन घंटे में पूरी मतदान की प्रक्रिया सम्पन्न हो सकती है। इससे पूर्व डा। संजय सिंह ने शिक्षकों, अधिकारियों एवं कर्मचारियों को मतदान दिवस पर शपथ दिलाई।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.