कोरोना के नए खतरे से निपटने को बढ़ेंगे 850 बेड

2020-05-23T21:45:55Z

- मेडिकल एजुकेशन डिपार्टमेंट की ओर से जीएसवीएम मेडिकल कालेज में कोविड पेशेंट्स के ट्रीटमेंट के लिए क्षमता बढ़ाने के निर्देश

- 50 बेड आईसीयू के और 800 बेड कैपेसिटी के आइसोलेशन वा‌र्ड्स तैयार करने को कहा, क्वारंटीन बेड भी बढ़ाने होंगे

Kanpur: कानपुर समेत पूरे यूपी में कोरोना वायरस के प्रवासी खतरे से निपटने के लिए तैयारियां और तेज कर दी गई हैं। इसी के तहत यूपी के सभी मेडिकल कॉलेजों में कुल 25,025 बेड बढ़ाने के लिए शासन ने निर्देश दिए हैं। इसी के तहत कानपुर में भी जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज में आइसोलेशन व क्रिटिकल केयर मिला कर कुल 850 बेडों का इंतजाम करना होगा। इस बाबत बेडों का इंतजाम करने की तैयारी भी शुरू हो गई है। साथ ही मेटर्निटी विंग के कोविड हॉस्पिटल को और ज्यादा बेहतर तरीके से तैयार करने के लिए कहा गया है।

लेवल-3 के हिसाब से

मेडिकल कालेज प्रिंसिपल डॉ.आरती लालचंदानी के मुताबिक कोविड बेडों की क्षमता बढ़ाने के लिए काम शुरू कर दिया गया है। बेडों के आर्डर की प्रक्रिया चल रही है। इसके अलावा क्रिटिकल केयर के लिए 30 और वेंटीलेटर्स का इंतजाम किया जाएगा। मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल के मुताबिक हमारे कोविड अस्पताल को लेवल-3 के हिसाब से तैयार किया जा रहा है। जहां कोरोना वायरस के सबसे क्रिटिकल पेशेंट्स का ट्रीटमेंट किया जाएगा। इसी के तहत 100 बेड के मेटर्निटी हॉस्पिटल में ऑक्सीजन लाइन डालने का काम कराया जा रहा है।

बेड पर मिलेगी ऑक्सीजन

प्रिंसिपल का कहना है कि न्यूरो साइंस सेंटर में बनाए गए कोविड आईसीयू की क्षमता को भी बढ़ाया जाएगा। क्योंकि यहां आसपास के जिलों से आने वाले कोरोना वायरस के सीरियस पेशेंट्स का ट्रीटमेंट किया जाएगा। आइसोलेशन बेड्स पर ही ऑक्सीजन लाइन या सिलेंडर का इंतजाम किया जाएगा। केंद्र सरकार की मदद से 200 ऑक्सीजन सिलेंडर भी मिल रहे हैं। अभी तक यहां 200 बेड के आइसोलेशन व क्रिटिकल केयर की क्षमता थी। जिसके अब बढ़ाया जा रहा है। इसके अलावा एक्टिव व पैसिव क्वारंटीन के बेड भी बढ़ाए जाएंगे। 717 एक्टिव और इतने ही पैसिव क्वारंटीन के बेड बढ़ाने होंगे।

--------------

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.