दवा के नाम पर बकरी का दूध 2000 रुपए लीटर

Updated Date: Fri, 16 Sep 2016 07:41 AM (IST)

आई एक्सक्लूसिव

- शहर में ढूंढे नहीं मिल रहा बकरी का दूध

- सुबह तीन बजे से ही दूध के लिए लग जाती है लाइन

- दूध के लिए एडवांस में देना पड़ रहा ऑर्डर

DEHRADUN: हरिद्वार रोड पर एक टिनशेड के नीचे बकरी पालक राहुल ने अपना कामचलाऊ घर बना लिया है। सुबह तीन बजे से ही राहुल के इस कामचलाऊ घर के बाहर बकरी के दूध के लिए लोगों की कतार लग जाती है। बकरी के दूध के लिए इतनी मारामारी कभी देखने को नहीं मिली, सुबह चार बजे जैसे ही राहुल जागते हैं, उनके कानों में आवाजें पड़ती हैं, पहले मैं-पहले मैं। ऐसा ही हाल बकरी पालक विशाल के घर के बाहर भी अलसुबह देखने को ि1मलता है।

दवा के नाम पर बढ़ी डिमांड

यह मारामारी बकरी के दूध के लिए है, जो पिछले डेढ़ महीनों से जारी है। जी हां, डेंगू के डंक की चपेट में पूरा शहर है। डेंगू की चपेट में आए मरीजों के परिजन आजकल बकरी के दूध के लिए पूरे शहर की परिक्रमा कर रहे हैं। जहां बकरियां दिख रही हैं, वहीं लोग बकरी के दूध की डिमांड कर रहे हैं।

कई लौट रहे बैरंग

बकरी के दूध की बढ़ती डिमांड को देखते हुए दून में बकरी का दूध भी आसानी से नहीं मिल रहा। लीटर तो छोडि़ए पाव भर दूध के लिए भी शहर में मारामारी है और पाव भर दूध के लिए ख्00 से भ्00 रुपए तक लोगों को खर्च करने पड़ रहे हैं। यानि एक किलो दूध के लिए दो हजार रुपए तक वसूले जा रहे हैं। हरिद्वार रोड पर बकरी पालक राहुल की मानें तो सुबह तीन बजे से ही दूध के लिए लोगों की कतार लग जा रही है। लोग दूध के लिए एडवांस बुकिंग तक करा रहे हैं। हरिद्वार बाईपास पर ही बकरी का दूध बेचने वाले महेंद्र कहते हैं कि अबकी बार दूध के लिए मारा-मारी हो रही है।

-------------

कुछ इलाकों में ही मिल रहा दूध

शहर में बकरी का दूध हरिद्वार बाईपास के अलावा मोथारोवाला, रायपुर, डोईवाला, क्लेमनटाउन इलाकों में ही बमुश्किल मिल पा रहा है। एक बकरी एक वक्त में ढाई सौ से तीन सौ ग्राम तक दूध देती है। इस कारण भी दूध के लिए मारामारी है। जरूरतमंदों को क्00 से क्भ्0 ग्राम तक ही दूध मिल पा रहा है।

--------

दो साल पहले ख्0 रुपए पाव

हर साल डेंगू के आते ही बकरी के दूध की डिमांड बढ़ती है, लेकिन अब की बार डेंगू का प्रकोप ज्यादा है इसलिए दूध की डिमांड भी ज्यादा है। बकरी पालक विशाल ने बताया कि पिछले साल ब्0 रुपए व दो साल पहले तक ख्0 रुपए पाव बकरी का दूध बिक रहा था।

---------

---------

::वर्जन:::

बकरी का दूध तो मिल ही नहीं पा रहा है। आपको या तो पहले आना होगा या फिर पहले ऑर्डर देना होगा। सुबह चार बजे आ सकते हैं, तो मिल जाएगा।

विशाल, बकरी पालक, हरिद्वार बाईपास।

दूध के लिए सुबह चार बजे आना पड़ेगा। समय पर आओगे तो दूध आपको मिल जाएगा। यहां आजकल सुबह से ही दूध के लिए कतारें लग जाती हैं।

महेंद्र, बकरी पालक, हरिद्वार रोड।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.