क्राइम कंट्रोल को अब नाइट पेट्रोलिंग पर जोर

Updated Date: Mon, 03 Aug 2020 07:30 AM (IST)

- अनलॉक 3 में ज्यादा एक्टिविटी के खुलने से क्रिमिनल के एक्टिव होने की संभावना

- डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने मीटिंग कर सभी सीओ को जारी किया गाइडलाइन

देहरादून,

क्राइम कंट्रोल के लिए दून पुलिस अब नाइट पेट्रोलिंग पर ज्यादा फोकस करेगी। अनलॉक 3 में ज्यादा एक्टिविटीज के खुलने से क्रिमिनल के एक्टिव होने की आशंका को देखते हुए डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने सभी सीओ को इस बाबत गाइडलाइन जारी की है। पुलिस पिकेट्स को रात के वक्त सघन चेकिंग अभियान चलाने के निर्देश जारी किए गए हैं। सभी सीओ रात को पुलिस पिकेट्स की मॉनिटरिंग करेंगे।

डीआईजी ने ली मीटिंग

संडे को डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने अनलॉक- 3 को लेकर पुलिस अधिकारियों की मीटिंग ली। उन्होंने सभी सीओ को अपने-अपने सर्किल में दिन व रात के समय चेकिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सीओ रात के समय होने वाली गश्त, पिकेट व चीता ड्यूटी में तैनात कर्मियों को ब्रीफ करते हुए उनकी मॉनिट¨रग भी करेंगे। उन्होंने कहा कि अनलॉक-3 में सभी एक्टिविटी शुरू होने लगी हैं, ऐसे में क्राइम बढ़ने की संभावना है। जिसे देखते हुए पुलिस को अलर्ट रहना होगा। उन्होंने कहा कि थाना इंचार्ज रात के समय नियमित रूप से अपने-अपने एरिया में विजिट करें, जेल से छूटे क्रिमिनल का नियमित रूप से वेरिफिकेशन कर उनकी एक्टिविटी पर नजर रखें और लंबित मामलों के शीघ्र अनावरण व उनमें वांछित आरोपियों की गिरफ्तारी करें। कप्तान ने ड्यूटी के दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बनाई गई एसओपी का अनिवार्य रूप से पालन करने के निर्देश दिए।

6 माह में 863 मामले दर्ज

दून में पिछले 6 माह में क्राइम का ग्राफ बढ़ा है। दून में बीते 6 माह में मर्डर के ज्यादा केस रजिस्टर हुए हैं, दून जिले में पिछले 6 माह में 863 मामले दर्ज हुए, इसके साथ ही दहेज हत्या के 6 मामले इस वर्ष अब तक सामने आए हैं। इसके अलावा दून में लूट, डकैती, चोरी, महिलाओं से जुड़े कई अपराध लॉकडाउन के बाद भी सामने आए हैं।

-----------------------

अनलॉक 3 में अब ज्यादा एक्टिविटीज होगी। इससे क्रिमिनल के ज्यादा एक्टिव होने की संभावना है। ऐसे में सभी सीओ को नाइट पेट्रोलिंग पर जोर देने को कहा गया है।

अरुण मोहन जोशी, डीआईजी

डीआईजी ने दिए निर्देश-

- पुलिस पिकेट्स पर रात के समय सघन चेकिंग।

- सीओ पिकेट्स पर तैनात पुलिस कर्मियों की मॉनिट¨रग करेंगे।

- सीओ रात के समय होने वाली गश्त, पिकेट व चीता ड्यूटी में तैनात कर्मियों को ब्रीफ करेंगे।

- थाना इंचार्ज रात के समय अपने एरिया में रेगुलर विजिट करेंगे।

- जेल से छूटे क्रिमिनल्स का वेरिफिकेशन व उनकी गतिविधि पर रखें नजर।

- लंबित मामलों के शीघ्र अनावरण व उनमें वांछित आरोपियों की गिरफ्तारी करें।

- ड्यूटी के दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बनाई गई एसओपी का पालन करने के निर्देश दिए।

--------------

पुलिसकर्मी मेल या व्हाट्सएप पर करें संपर्क

पुलिस मुख्यालय की ओर से पुलिसकर्मियों को किसी भी प्रकार की समस्या या कंप्लेन के लिए सीधे संपर्क करने की बजाय ई-मेल या व्हाट्सएप की मदद लेने को कहा है। अनलॉक-3 में रात के कफ्र्यू से लेकर कई तरह की छूट दी गई है। इससे आम जीवन में काफी बदलाव होगा। ऐसे में पुलिसकर्मियों को ज्यादा सुरक्षित रहने की जरूरत होगी। पुलिस मुख्यालय की ओर से सभी पुलिसकर्मियों को ऐसे समय में पूर्व में जारी एसओपी का अनिवार्य रूप से पालन करने को कहा गया है। साथ ही किसी समस्या या कंप्लेन के लिए अधिकारियों से सीधा संपर्क करने के बजाय अधिकारियों तक अपनी बात पहुंचाने के लिए वह ई-मेल या व्हाट्सएप की मदद ले सकते हैं। उत्तराखंड में मार्च से अब तक 106 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से नौ ठीक होकर ड्यूटी पर भी वापस आ चुके हैं। अब तक 1363 पुलिसकर्मियों को क्वारंटीन किया गया, जिनमें से 1158 क्वारंटीन अवधि पूरी कर ड्यूटी कर रहे हैं। पुलिसकर्मियों को कोरोना से बचाए रखने के लिए पुलिस मुख्यालय ने एसओपी जारी की हुई है।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.