रांची (ब्यूरो)। तिरंगे में लिपटे शहीद के पार्थिव शरीर को देख जहां सबकी आंखें नम हो गईं वहीं पूरा एयरपोर्ट परिसर शहीद संतोष गोप अमर रहें... और पाकिस्तान मुर्दाबाद... के नारों से गूंज उठा। फिर सेना के अधिकारियों व जवानों ने उन्हें सेना की परंपरा के अनुसार सलामी दी।

गवर्नर ने दी श्रद्धांजलि

शाम लगभग 5:51 बजे राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पहुंचीं और शहीद को श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष दिनेश उरांव व सांसद सुदर्शन भगत समेत शहीद संतोष गोप के बड़े भाई गोसांई गोप व गांव से आए उनके मित्रों ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी। शहीद के पार्थिव शरीर को नामकुम आर्मी कैंप में रखा गया है। मंगलवार सुबह पार्थिव शरीर को गुमला जिले के बसिया प्रखंड में स्थित शहीद के गांव टेंगरा ले जाया जाएगा।

देश व राज्य की बड़ी क्षति : राज्यपाल

राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि संतोष गोप देश के लिए शहीद हुए हैं। वे झारखंड के लाल थे। कश्मीर स्थित बारामूला में वे सिग्नल मैन के रूप में कार्यरत थे। उनकी पोस्टिंग 2012 में हुई थीं। कश्मीर की घाटी में पाकिस्तानी सैनिकों के साथ मुठभेड़ में वे घायल हुए और शहीद हो गए। कहा, वे देश के लिए शहीद हुए हैं। उनकी शहादत से देश व राज्य को बड़ी क्षति हुई है। मैं भगवान से प्रार्थना करुंगी कि उनके परिवार को दुख सहन करने की शक्ति दें। सरकार के पास जो प्रावधान होंगे, उसके तहत उनके परिवार को सहयोग किया जाएगा।

ranchi@inext.co.in

Posted By: Inextlive Desk

National News inextlive from India News Desk