फुटपाथ कहां है जनाब

-एमजी मार्ग की पटरियों पर फल और नर्सरी चलाने वालों का कब्जा

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: पब्लिक की सहूलियत के लिए सड़कों को चौड़ा किया गया. फिर इनके किनारे सुव्यस्थित फुटपाथ बनाया गया. मकसद था कि फुटपाथ पर पब्लिक आराम से चलेगी. लेकिन ऐसा होने के बजाए फुटपाथ का मिसयूज होने लगा. एमजी मार्ग पर सिविल लाइंस से मेडिकल चौराहे के बीच बने फुटपाथ का भी कुछ ऐसा ही मिसयूज हो रहा है. यहां कहीं फलों की दुकान लगी है तो कहीं पर पौधों की नर्सरी. आलम यह है कि फुटपाथ पर फल बिक रहा है तो पब्लिक सड़क पर खड़ी होकर खरीदारी कर रही है.

कैसे चलेंगे पैदल

कुंभ के दौरान सिविल लाइंस से मेडिकल चौराहा के बीच फुटपाथ बनाया गया. संगम स्थित कुंभ मेला क्षेत्र में पहुंचने वाले मार्ग पर पड़ने की वजह से इसके डेकोरेशन में भी कोई कोताही नहीं बरती गई थी. लेकिन कुंभ बीतते ही इसकी हालत जस की तस हो गई. आज आलम यह है कि यहां फलों की मंडी लगने के साथ ही पौधों की बिक्री के लिए रोड पटरी पर ही नर्सरी खुल गई. ऐसे में पटरी पर पैदल चलने के लिए जगह ही नहीं बची. अब पैदल यात्री सड़क किनारे चलने को मजबूर हैं. ऐसे में उनके सामने फर्राटा भरते छोटे-बड़े वाहनों की चपेट में आने का लगातार खतरा बना रहता है.

ठेले वालों का भी कब्जा

एक तरफ रोड पर फल विक्रेताओं और नर्सरी वालों ने कब्जा जमा रखा है. वहीं दूसरी तरफ रोड पर ही कुछ सब्जी विक्रेता दुकानें लगाए रहते हैं. इन सबके बाद जो थोड़ी-बहुत जगह बच जाती है, उसमें ठेले और गुमटियां रखी गई हैं. पटरी पर लगी दुकानों से सामान खरीदने के चक्कर में अक्सर लोग अपने वाहन सड़क पर ही खड़े कर देते हैं. बेतरतीबी से खड़े इन वाहनों के चलते पैदल चलने वालों को और ज्यादा परेशानी होती है. इस स्थिति में कई बार जाम भी लग जाता है.

कॉलिंग

इस रोड की फुटपाथ पर यह नजारा बेहद आम है. सबसे अधिक प्रॉब्लम से सिटी के बाहर से आने वाले लोगों को होती है. लोग वाहन खड़े कर जाम लगा देते हैं और किसी को परवाह नहीं होती.

-संजीत

यहां पर काफी प्रॉब्लम होती है. खासतौर पर अगर एमजी मार्ग से पन्नालाल रोड पर जाना हो हालत खराब हो जाती है. यहां मोड़ पर ही कई ठेले लगे होते हैं. इससे एक्सीडेंट का भी डर रहता है.

-सुशील यादव

फुटपाथ पर कब्जे की स्थिति तो शहर की सभी सड़कों पर बनी हुई है. लेकिन एमजी मार्ग पर हालात कुछ ज्यादा ही विकट हो जाते हैं. सीएवी इंटर कॉलेज से लेकर मेडिकल चौराहा तक स्थिति खराब है.

-जय प्रकाश

फुटपाथ पर अतिक्रमण है. पैदल चलने वाले सड़क पर चलने को मजबूर हैं. सड़क पर वाहन चलाने वालों को पैदल चल रहे लोगों को फिक्र नहीं होती है. उनकी तो जान पर खतरा बना रहता है.

-विपिन

फुटपाथ बना ही है पैदल चलने वालों के लिए. लेकिन यहां किसी नियम का पालन होता है जो इसका होगा. आराम से फुटपाथ पर लोग अपनी दुकानें जमाए बैठे हैं. पैदल चलने वाले चाहे जैसे चलें.

-आलोक