नई दिल्ली (एएनआई)। संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू हो रहा है। इस दाैरान विपक्ष सरकार को घेरने की तैयारी कर रहा है। ऐसे में संसद के बजट सत्र से पहले 30 जनवरी को विपक्षी दलों की बैठक होने वाली है। सत्र के पहले दिन यानि 31 जनवरी राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सुबह 11 बजे संसद के दोनों सदनों को संबोधित करेंगे। संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू होकर 3 अप्रैल को समाप्त होगा। बजट सत्र दो चरणों में होगा। सूत्रों के अनुसार, सत्र का पहला चरण 31 जनवरी से 11 फरवरी तक और दूसरा 2 मार्च से 3 अप्रैल तक चलेगा।

बजट पर देश ही नहीं दुनिया भर की निगाहें टिकी

वहीं केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को अपना दूसरा केंद्रीय बजट पेश करेंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के कार्यकाल में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण दूसरी बार बजट पेश करने जा रही हैं। मोदी सरकार के इस बार के बजट को अर्थव्‍यवस्‍था को गति देने के लिहाज से बेहद चुनौतीपूर्ण माना जा रहा है। साल 2020-2021 के बजट पर देश ही नहीं दुनिया भर की निगाहें टिकी हैं।

एफएमसीजी उत्‍पादों पर जीएसटी में कमी की उम्‍मीद

बजट से व्‍यक्तिगत आयकर की दरों में कमी, महंगाई पर लगाम, मकान बनाने व खरीदने के लिए कर में अधिक छूट, कंज्‍यूमर ड्यूरेबल व एफएमसीजी उत्‍पादों पर जीएसटी में कमी की उम्‍मीद है।इस बार बजट शनिवार को पेश किया जा रहा है, आम तौर पर सप्‍ताहांत होने के चलते इस दिन स्‍टॉक एक्‍सचेंज व संसद में कामकाज नहीं होता है, हालांकि बजट होने के चलते शनिवार होने के बावजूद काम होगा।

Posted By: Shweta Mishra

Business News inextlive from Business News Desk