कई स्कूलों ने कैंसल किए कार्यक्रम, कई ने खोल कर बंद किए

कंफ्यूजन में बच्चे पहुंचे स्कूल, फिर हो गई छुृट्टी

Meerut। एयर पॉल्यूशन का लेवल बढ़ जाने के बाद बुधवार देर रात डीएम की तरफ से जारी किया गया आदेश कुछ स्कूलों तक पहुंचा तो कुछ तक नहीं। ऐसे में कुछ ही स्कूल छुट्टी वाले मैसेज को आगे अभिभावकों तक कैरी फॉवर्ड कर पाए। वहीं स्कूलों की बजाए अभिभावकों को फेसबुक और व्हाट्सऐप के जरिए स्कूलों की छुट्टी का मैसेज देर रात या सुबह-सवेरे मिला। ऐसे समय में स्कूलों से छुट्टी की बात वैरीफाई कर पाना मुमकिन नहीं था। जिससे अभिभावक कंन्फ्यूजन में आ गए। जिसका परिणाम ये हुआ कि कई स्कूलों के बच्चों को गुरुवार सुबह स्कूल पहुंचने पर छु्ट्टी की सूचना मिली। डीएम अनिल ढींगरा ने 15 नवंबर तक 12वीं कक्षा तक के सभी स्कूल बंद रखने का आदेश दिए हैं।

कार्यक्रम रद

14 नंवबर को बाल दिवस के उपलक्ष्य में स्कूलों ने पहले से कार्यक्रमों की तैयारी कर रखी थी। जबकि कई स्कूलों में एनुअल कार्यक्रम और एथलेटिक मीट आदि का आयोजन भी होना था। मगर देर रात छुट्टी की सूचना मिलने पर स्कूलों को सुबह कार्यक्रम स्थगित करने पड़े।

टीचर्स पहुंचे स्कूल

स्कूलों में हुई छुट्टी का फायदा केवल स्टूडेंट्स को ही मिला। अधिकतर स्कूलों में टीचर्स को स्कूल जाना पड़ा। ऐसे में जहां स्कूलों में टीचर्स ने पेंडिंग काम निपटाएं वहीं ऑफिस से जरूरी काम भी पूरे किए गए। हालांकि स्कूल संचालकों का कहना है कि प्रदूषण की वजह से स्कूल बंद हो रहे हैं। इसका सीधा असर शेड्यूल पर पड़ रहा है। सिलेबस पूरा नहीं हो पा रहा है, वहीं प्री-प्लानिंग भी खराब हो गई है।

आज भी बंद रहेंगे स्कूल

स्मॉग के चलते आज भी सभी स्कूलों को बंद रखने के आदेश दिए गए हैं। इस दौरान प्रशासन ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि सभी बोर्ड के स्कूल बंद रहेंगे। अगर किसी स्कूल ने निर्देशों का पालन नहीं किया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

मुझे व्हाट्सऐप के जरिए रात 12 बजे स्कूल की छट्टी का मैसेज मिला था। मगर स्कूल से ऐसा कोई मैसेज न आने की वजह से छुट्टी को लेकर कंफ्यूजन बढ़ गया। सुबह जब बच्चों को लेकर स्कूल पहुंचे तो पता चला कि छुट्टी है।

नैना, पेरेंट्स

मुझे दोस्त का मैसेज आया कि कल स्कूलों की छुट्टी है लेकिन कंफर्म नहीं है। मैसेज देर रात आया था इसलिए स्कूल से कंफर्म करना मुमकिन नहीं था।

राहुल पेरेंट्स

Posted By: Inextlive