-कांवड़ यात्रा सकुशल सम्पन्न कराने के लिए हुई आलाधिकारियों की मीटिंग

-एडीजी एवं कमिश्नर ने प्रयागराज मंडल के जिलाधिकारियों एवं पुलिस अधिकारियों के साथ की बैठक

PRAYAGRAJ: सावन में निकलने वाली कांवड़ यात्रा के दौरान पुलिस और प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद रहेंगे. किसी प्रकार की अफवाह और माहौल को खराब होने से रोकने के लिए सोशल मीडिया पर नजर रखी जाएगी. गुरुवार को एडीजी एसएन साबत और कमिश्नर डॉ. आशीष गोयल ने मीटिंग कर अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए. एडीजी ने कांवड़ यात्रा के अनुभवों को अधिकारियों के बीच शेयर किया. यह भी कहा गया कि इस दौरान एसडीएम और सीओ अपने क्षेत्रों में निवास करेंगे.

सर्वे कराकर रास्ते बनाएं सुगम

कमिश्नर डॉ. आशीष कुमार गोयल ने मीटिंग में कांवड यात्रा के मागरें का सम्बन्धित अधिकारीगण, एनएचआई के अधिकारियों के साथ सर्वे कराने और सुगम बनाने के आदेश दिए. उन्होंने एम्बुलेंस 108, 102 एवं डायल 100 को कांवड़ यात्रा के दौरान सक्रिय रखने और तत्काल अलर्ट होने पर उसके समाधान के आदेश दिए हैं. जहां डायवर्जन है वहां प्रॉपर साइनेज लगाया जाए जो दूर से देखने में सुगम हो. प्लास्टिक का उपयोग न हो और गंदगी न हो.

पावर प्रजेंटेशन के जरिए बताया प्लान

डीआईजी कवींद्र प्रताप सिंह ने कांवड़ यात्रा सकुशल सम्पन्न करने के लिए तैयार किया गया प्रारूप पावर प्रेंजेटेशन के माध्यम से उपस्थित अधिकारियों के समक्ष प्रस्तुत किया. प्रयागराज के शिव मंदिरों पर जाने वाले कांवडि़यों की सुगमता के लिए की गयी व्यवस्था को भी बताया गया. इसी के साथ कांवडि़यों के लिए विश्राम स्थलों को और अच्छा करने पर भी विचार किया गया. बैठक में डीएम प्रयागराज बीसी गोस्वामी, डीएम कौशांबी मनीष वर्मा, फतेहपुर डीएम संजीव सिंह, प्रतापगढ़ डीएम मार्कंडेय शाही सहित पुलिस के आलाधिकारी उपस्थित रहे.

------------

रूट डायवर्जन

17 जुलाई से कांवडि़यों के आगमन को देखते हुए सम्पूर्ण नगर क्षेत्र में कांवडि़यों के मार्ग पर भारी वाहनों का प्रवेश सुबह 5:30 से रात 22:30 तक प्रतिबंधित.

13 से 15 अगस्त तक प्रयागराज शहर की सीमा से दूर स्थानों पर भारी वाहनों की एंट्री पर रोक लगाई गई है.

-शास्त्री ब्रिज प्रयागराज से झूंसी होकर हंडिया तक भारी/कॉमर्शियल वाहनों का आवागमन पूर्णत: प्रतिबन्धित रहेगा. इस रास्ते पर पड़ने वाले स्कूलों और महत्वपूर्ण संस्थान के लिए वाहन पास जारी होगा.

बॉक्स

शहर क्षेत्र के अंदर लोड-अनलोड होने वाली गाडि़यों में रीवां की ओर से आने वाले वाहन जीटी जवाहर से अन्दर आएंगे और वापसी मार्ग भी यही होगा. बनारस की ओर से आने वाले वाहन फाफामऊ होकर शहर के अंदर आएंगे और इसी रास्ते वापस जाएंगे. कानपुर की ओर से आने वाले वाहन नवाबगंज, फाफामऊ के रास्ते शहर के अंदर आएंगे और वापसी का मार्ग भी यही होगा.