- एक किशोर ने बीडि़यों से दागने और मारपीट की शिकायत की

- एसएसपी ने अधिकारियों और कर्मचारियों की ली क्लास

आगरा: किशोर संप्रेक्षण गृह में शनिवार को एसएसपी अमित पाठक अचानक निरीक्षण को पहुंच गए. कार्यालय की व्यवस्थाओं का जायजा लेने के बाद वे किशोरों के पास पहुंचे. इस दौरान उन्हें कई खामियां मिलीं. उन्होंने किशोरों से मारपीट और अंदर बीड़ी पहुंचने को लेकर अधिकारियों और कर्मचारियों की क्लास ली.

मुकदमे की दी चेतावनी

कलेक्ट्रेट के पीछे स्थित किशोर संप्रेक्षण गृह में क्षमता से दोगुने किशोर भरे हैं. इनके सोने के लिए भी ठीक से जगह नहीं है. एसएसपी अमित पाठक अचानक यहां पहुंच गए. कोई उन्हें पहचान भी नहीं पाया. पहले वे ऑफिसों का हाल देखते रहे. इसके बाद किसी कर्मचारी ने पहचान लिया. तब अधिकारी वहां पहुंच गए. वे कार्यालय से सीधे किशोरों के पास पहुंचे. वहां एक-एक कमरे में जाकर हालातों को देखने के बाद रसोई का निरीक्षण किया. इसके बाद सभी किशोरों से बात की. इस दौरान एक किशोर ने साथियों द्वारा मारपीट किए जाने और बीड़ी से जलाने की शिकायत की. एसएसपी ने इस पर सभी को आड़े हाथ ले लिया. उन्होंने मारपीट करने वाले दोनों किशोरों को बुलाकर समझाया. इसके बाद अधिकारियों से कहा कि किशोर गृह में बीड़ी अंदर नहीं आनी चाहिए. नहीं तो वे अगली बार चुपचाप ऑपरेशन करेंगे और जिम्मेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेजेंगे. सुधार गृह में किशोंरों का सुधार होना चाहिए.इसके अलावा एसएसपी हरीपर्वत सर्विलांस सेल भी पहुंचे थे.