अधिकतम तापमान 41.8

न्यूनतम तापमान 25.8

मरीजों की हालत खराब, बढ़ रही मरीजों की संख्या

Meerut. पिछले दो-तीन दिन से सूरज आग बरसा रहा है. इसी कड़ी में शुक्रवार को सूरज की तपिश से तापमान 41 के पार जा पहुंचा. जिसने लोगों का जीना मुहाल कर दिया. इस गर्मी का सीधा असर लोगों की सेहत पर पड़ रहा है. जिसके चलते डायरिया, पेट दर्द और बुखार से पीडि़त मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है. पिछले दो दिनों में जिला अस्पताल भी मरीजों की भारी भीड़ उमड़ रही है.

जिला अस्पताल की ओपीडी में पिछले दिनों में मरीजों का आंकड़ा 1100 से 1500 के करीब पहुंच गया है.

जनरल वार्ड में करीब 30 मरीज बुखार और डायरिया के भर्ती हैं.

मेडिकल कॉलेज में गर्मी की बीमारियों से जुड़े मरीजों की संख्या 3000 के पार हो गई है.

ऐसे रखें ख्याल

भरपूर पानी पीने के बाद ही बाहर निकलना चाहिए.

खरबूजा, तरबूजा, खीरे आदि का सेवन अधिक करना चाहिए.

बासी भोजन करने से परहेज करना चाहिए.

दिन में तपिश और गर्म हवाओं से शरीर में पानी की कमी हो जाती है, जिससे डिहाइड्रेशन होता है. ऐसे में उल्टी, दस्त की बीमारी तेजी से फैलती है. हीट स्ट्रोक का खतरा रहता है. पानी की अधिक कमी मौत का कारण बन सकती है.

डॉ. सुनील कौशिक, सीएमएस, जिला अस्पताल