- कोर्ट कंपाउंड, सीएसजेएम यूनिवर्सिटी और नगर निगम बन सकते हैं कोरोना के एपीसेंटर, तीनों को किया गया बंद

-तीनों जगह से अब तक 10 लोगों को हो चुकी है वायरस के संक्रमण की पुष्टि, चेन कॉन्टेक्स चेन होने की संभावना

kanpur@inext.co.in

KANPUR: सिटी में कोरोना वायरस का प्रकोप अब सरकारी संस्थानों को अपनी चपेट में ले रहा है। पुलिस डिपार्टमेंट के बाद अब कचहरी, सीएसजेएम यूनिवर्सिटी और नगर निगम से वायरस के संक्रमण का खतरा पैदा हो गया है। बीते दो दिनों में इन तीनों संस्थानों से कई अधिवक्ता और कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। इनकी कांटेक्ट ट्रेसिंग में इंफेक्शन की चेन लंबी होने का भी अब खतरा गहरा गया है। हेल्थ डिपार्टमेंट ने भी इन संस्थानों से जुड़े कोरोना संक्रमितों की कॉटेक्ट ट्रेसिंग और सस्पेक्टेड पेशेंट्स को क्वारंटीन कर उनकी जांच का काम तेज कर ि1दया है।

पुलिस, हेल्थ वर्कसर् पहले से

सिटी में कोरोना वायरस से लड़ाई लड़ रहा सिस्टम भी इसका शिकार हो रहा है। पुलिस कर्मियों से लेकर कई हेल्थ वर्कर्स वायरस की चपेट में आ चुके हैं। वायरस संक्रमण के पहले दौर में दो दर्जन से ज्यादा पुलिस कर्मी वायरस से संक्रमित हुए। वहीं दूसरे दौर में ककवन थाने के एसओ समेत थाने के कई सिपाही वायरस से पीडि़त हो चुके हैं। डफरिन हॉस्पिटल कैंपस भी वायरस की चपेट में है इसके अलावा उर्सला से भी एक जेआर कोरोना पॉजिटिव हो चुकी है। वहीं अब जब अनलॉक-1 में ऑफिसेस खुल चुके हैं और वहां लोगों की आवाजाही भी बढ़ी है। ऐसे में कोरोना संक्रमण का खतरा काफी ज्यादा बढ़ गया है।

---------

संक्रमण फैलने का बड़ा खतरा

कचहरी ,नगर निगम और सीएसजेएम यूनिवर्सिटी तीनों जगहों पर लोगों की आवाजाही काफी ज्यादा रहती है। अनलॉक-1 में इन सभी जगहों पर कामकाज शुरू हो चुका है। इन जगहों पर लोगों के संक्रमित मिलने लगे हैं। नगर निगम परिसर को थर्सडे को ही सील कर दिया गया था। वहीं फ्राईडे को सीएसजेएम यूनिवर्सिटी में कम्प्यूटर सेक्शन को भी सील कर दिया गया। वहीं कचहरी परिसर में भी लगातार सेनेटाइजेशन और कॉटेक्ट ट्रेसिंग शुरू कर दी गई है।

कहां कितने पॉजिटिव मिले

कचहरी- 4

नगर निगम- 3

सीएसजेएम यूनिवर्सिटी- 3

Posted By: Inextlive