- इलेक्शन कमीशन ने पूरी की चुनाव की तैयारियां

- ट्यूजडे शाम ठीक पांच बजे राज्य में थम गया प्रचार

- शांतिपूर्ण इलेक्शन को 45696 फोर्स, 67380 कार्मिकों की तैनाती

dehradun@inext.co.in

DEHRADUN:
स्टेट में फ‌र्स्ट फेज में हो रहे लोकसभा की पांच सीटों के लिए होने वाले इलेक्शन के लिए ट्यूजडे को प्रचार थम गया है. चुनाव के चंद घंटे शेष रह गए हैं. इलेक्शन में किसी प्रकार की कोई कमी न रह जाए, इसके लिए इलेक्शन कमीशन ने अपनी तैयारियां पूरी कर लेने का दावा किया है. इधर, राज्य की पांच लोकसभा सीटों के लिए 52 कैंडिडेट्स चुनाव मैदान में हैं. जिनके भाग्य का फैसला कल स्टेट के 7765423 वोटर्स ईवीएम में बंद करेंगे. इसके अलावा सर्विस वोटरों की संख्या 90845 है. इस प्रकार से सभी वोटरों की संख्या 7856268 है. शांतिपूर्ण इलेक्शन निपटाने के लिए 45696 सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई है. इलेक्शन कमीशन ने चुनाव में कुल 697 वनरेबल व 656 क्रिटिकल बूथ्स घोषित किए हैं. इसी प्रकार से चुनाव संपन्न कराने के लिए 67380 अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गइर्1 हैं.

वोटिंग को 237 जोन, 1371 सेक्टर
राज्य में चुनाव के लिए करीब 24 घंटे रह गए हैं. कल सुबह से पांचों सीटों के लिए वोटिंग शुरू हो जाएगी. इलेक्शन संपन्न कराने के लिए इलेक्शन कमीशन ने पूरे राज्य में 8015 वाहनों की मदद ली है. राज्य की आबादी कुल 11176412 है. बदले में वोटरों की संख्या 7754323 है. इनमें से मेल वोटरों की संख्या 4053844, फिमेल वोटर्स की संख्या 3711220 और थर्ड जेंडर वोटर्स 259 हैं. इलेक्शन कमीशन ने 11 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए कोई कसर न रहे, इसको देखते हुए पूरे राज्य को 237 जोन, 1371 सेक्टर में बांटा है.

जोन--237

-सेक्टर--1371

-वनरेबल--697

-क्रिटिकल--656

-वेबकास्टिंग--1180

-सीसीटीवी लैस--519

फोर्स

-स्टेट पुलिस--16000

-होम गा‌र्ड्स--17596

-सीआरपीएफ--65000(65 सीओ)

-पीआरडी--4100

-फॉरेस्ट गा‌र्ड्स--1500

-क्यूआरटी--152

-स्टेट बैरियर्स--93

-एनडीआरएफ--150

दून में सबसे ज्यादा पोलिंग स्टेशन

स्टेट की पांचों लोकसभा सीटों में वोटरों की बात की जाए तो सर्विस वोटरों को मिलाकर हरिद्वार सबसे बड़ा लोकसभा क्षेत्र है. जहां 1840732 वोटर्स अपने नए एमपी को चुनेंगे. जबकि दूसरे नंबर पर नैनीताल, तीसरे पर टिहरी, चौथे पर गढ़वाल और पांचवे पर अल्मोड़ा है. इलेक्शन कमीशन ने पूरे प्रदेश में 11229 पोलिंग स्टेशन बनाए हैं. जिनमें सबसे ज्यादा 1797 देहरादून जिले में हैं. चुनाव के लिए तमाम जिलों की जियोग्राफिकल कंडीशन को देखते हुए पोलिंग पार्टियों की रवानगी 8 मार्च से शुरू कर दी गई है, आखिरी रवानगी 10 अप्रैल तक होगी. जबकि पोलिंग पार्टियों की वापसी की आखिरी तारीख्ा 12 अप्रैल सुनिश्चित की गई है.

सीटवाइज उम्मीदवारों की संख्या

-टिहरी---15

-गढ़वाल--9

-हरिद्वार--15

-नैनीताल--7

-अल्मोड़ा--6