कानपुर (हिटलिस्ट)। एक साल पहले जब हमने राजी मूवी की सक्सेस एंज्वाॅय कर रहे विकी कौशल से पूछा था, 'क्या आपको भीड़ घेर लेती है?' तो उन्होंने बहुत पोलाइटली जवाब दिया था, 'नहीं, अभी तक तो नहीं।' आज की बात करें तो चीजें एकदम बदल चुकी हैं। विकी न सिर्फ बॉलीवुड के सबसे 'बैंकेबल' स्टार्स में से एक हैं बल्कि वह उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक मूवी के लिए 'बेस्ट एक्टर' का 'नेशनल वे (ज्यूरी) विनर लिस्ट अवॉर्ड' भी अपने नाम कर चुके हैं।

अभी तक नहीं हुआ है यकीन

यह अवॉर्ड जीतने को लेकर इस एक्टर का कहना है, 'लोग कहते हैं कि डेस्टिनी स्टार मेकर होती है पर यह बिना हार्ड वर्क के पॉसिबल नहीं है। पिछले कुछ दिनों से मेरे पेरेंट्स मुझसे पूछ रहे हैं कि मैं कैसा फील कर रहा हूं। सच कहूं तो यह अभी तक मुझमें पूरी तरह समा नहीं पाया है।' फिल्म इंडस्ट्री में कॉम्पिटीशन काफी टफ होता है, पर विकी खुश हैं कि वह अपने दोस्त आयुष्मान खुराना के साथ यह ऑनर शेयर कर रहे हैं, जिन्हें अंधाधुन मूवी के लिए यह अवॉर्ड मिला है। विकी कहते हैं, 'मैं उनकी च्वॉइसेस को एडमायर करता हूं।'

सेट पर नहीं जाते हैं कोई डाउट लेकर

'सेट पर डाउट्स लेकर नहीं जाता हूं' इस बड़ी जीत के बाद जब उनसे पूछा गया कि क्या इससे उनका नजरिया बदलेगा तो उन्होंने कहा, 'मैं अपने काम को लेकर हमेशा ईमानदार रहा हूं और मैं किसी भी चीज को लेकर अपनी अप्रोच नहीं बदलने देना चाहता। मैंने हमेशा अपने 'गट' को फॉलो किया है और कभी कोई ऐसा काम हाथ में नहीं लिया जिसके लिए मेरे दिल ने इजाजत न दी हो। मैं सेट पर डाउट्स लेकर नहीं जाता हूं।'

National Film Awards 2019 : गुजराती फिल्म 'हिलारो' बेस्ट फिल्म, आयुष्मान और विकी को बेस्ट एक्टर का खिताब

कॉन्ट्रोवर्सी पर भी दिया अपना ओपीनियन

नेशनल अवॉर्ड की अनाउंसमेंट के बाद इसके साथ एक कॉन्ट्रोवर्सी तब जुड़ गई, जब मलयालम सुपरस्टार मामूट्टी के फैन्स ने ज्यूरी की च्वॉइस पर सवाल खड़े करते हुए यह कहना शुरू कर दिया कि वह पेरंबु के लिए 'बेस्ट एक्टर' का अवॉर्ड डिजर्व करते थे। इसको लेकर विकी बोले, 'हर साल की तरह इस बार भी नेशनल अवॉर्ड्स सबको साथ लेते हुए दिए गए। कीर्ति सुरेश को महानती (तमिल और तेलुगू) के लिए 'बेस्ट एक्ट्रेस' का अवॉर्ड मिला। रीजनल मूवीज को कई टेक्निकल अवॉर्ड्स दिए गए। हर किसी का अपना ओपीनियन है, उसमें एक और आवाज जोड़ने से कोई बदलाव नहीं आएगा। ज्यूरी एक्सपीरियंस्ड लोगों से बनी होती है, जो अपना काम जानते हैं। वे विनर लिस्ट बनाने से पहले 100 मूवीज देखते हैं।'

ज्यूरी ऐसी करती है काम

विनर लिस्ट बनाने से पहले 100 से ज्यादा मूवीज देखते हैं। डिस्कशन हेल्दी चीज है पर यह कहना सही नहीं होगा कि वे गलत हैं क्योंकि हमने वे मूवीज नहीं देखी हैं जो उन्होंने देखी हैं।

mohar.basu@mid-day.com

विक्की कौशल बने सेना के कुक, जवानों के लिए बनायी रोटियां

Posted By: Vandana Sharma

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk