कानपुर। क्रिकेट वर्ल्डकप 2019 के दौरान अंतरर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले भारत के मध्यक्रम बल्लेबाज अंबाती रायडू फिर से मैदान में लौटने के लिए तैयार हैं। रायडू 19 अगस्त से चेन्नई में होने वाली टीएनसीए वनडे टूर्नामेंट पार्थसार्थी ट्राॅफी में खेलते नजर आएंगे। स्पोर्ट्स स्टार की खबरों की मानें तो, रायडू इस बार नई टीम के साथ डेब्यू करने जा रहे। बता दें पूर्व भारतीय क्रिकेटर अंबाती पहली बार इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेंगे। रायडू का इस वनडे लीग में खेलने की एक वजह यह भी है कि उन्होंने अभी आईपीएल से संन्यास नहीं लिया है। ऐसे में हो सकता है कि वह आईपीएल में अपनी उपलब्धता बनाए रखने के लिए घरेलू टूर्नामेंट में खेलते नजर आएं।

वर्ल्डकप में नहीं चुने जाने से निराश थे

33 साल के अंबाती रायडू ने वर्ल्डकप में चयन नहीं होने से निराश होकर क्रिकेट को अलविदा कहा था। भारत के दाएं हाथ के इस बल्लेबाज को विश्वकप 2019 में स्टैंड बाॅय में रखा गया था। मगर विजय शंकर के बाहर होने के बाद भारतीय टीम मैनेजमेंट ने रायडू की बजाए मयंक अग्रवाल को टीम में शामिल कर लिया था जिससे रायडू और हताश हो गए और उन्होंने अचानक संन्यास ले लिया।

रवि शास्त्री की कोचिंग में भारत ने कितने मैच जीते

भारत के लिए खेले 55 वनडे

अंबाती रायडू ने भारत के लिए 55 वनडे खेले हैं जिसमें उन्होंने 47.05 की औसत से 1694 रन बनाए। हालांकि रायडू को कभी भारतीय टेस्ट टीम में जगह नहीं मिल पाई। बता दें टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कुछ महीनों पहले रायडू को चौथे नंबर का परफेक्ट बल्लेबाज बताया था मगर जब वर्ल्डकप टीम सलेक्शन की बारी आई तो रायडू की जगह विजय शंकर को 15 सदस्यीय टीम में जगह दी गई थी। शंकर के चयन पर चीफ सलेक्टर ने कहा था कि विजय 3डी खिलाड़ी हैं। यानी वह बैटिंग, बाॅलिंग और अच्छी फील्डिंग कर लेते हैं। इसको लेकर रायडू ने ट्वीट कर सलेक्टर्स का मजाक भी उड़ाया था।

'गेंदबाजों की कब्र' से मशहूर पिच पर जब कैरेबियाई बाॅलर ने लिए 14 विकेट

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk