नई दिल्ली (पीटीआई)। वर्ल्डकप 2019 फाइनल में बाउंड्री ज्यादा होने के चलते इंग्लैंड को विजेता घोषित करने के बाद पूरे विश्व में इस नियम की खूब आलोचना हुई। उस वक्त आईसीसी भले ही इसके पक्ष में खड़ा था मगर अब अनिल कुंबले की अध्यक्षता वाली क्रिकेट कमेटी इस नियम पर पुर्नविचार करने जा रही है। आईसीसी के मैनेजर जेफ एलरडाइस ने रविवार को इस बात की जानकारी दी। 14 जुलाई को लंदन में खेले गए वर्ल्डकप फाइनल में जब इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच मैच टाई रहा तो इंग्लिश टीम को न्यूजीलैंड से ज्यादा बाउंड्री लगाने के चलते विजेता बना दिया गया था जिसके बाद से मौजूदा क्रिकेटर ही नहीं पूर्व क्रिकेटरों ने भी इस नियम को बदलने की मांग की थी।

टाई ब्रेकर के लिए बाउंड्री काउंट का नियम

आईसीसी मैनेजर जेफ एलरडाइस की मानें तो, 2020 के पहले क्वाॅर्टर में जब आईसीसी की मीटिंग होगी तो बाउंड्री काउंट नियम पर जरूर चर्चा होगी। 2009 के बाद आईसीसी ने हर एक टाई मैच का फैसला सुपर ओवर से निकालने का नियम बनाया था मगर जब सुपर ओवर भी टाई हो जाए तो बाउंड्री काउंट बनाया गया। मगर वर्ल्डकप फाइनल में जो हुआ उसके बाद इस नियम को लेकर बहस होना लाजिमी है।जेफ आगे कहते हैं, पूरी दुनिया में जितनी भी टी-20 लीग होती हैं सभी में टाई ब्रेकर के लिए बाउंड्री काउंट का नियम बनाया गया। इसी के चलते आईसीसी ने भी यही नियम अप्रूव किया मगर अब कमेटी इय नियम पर पुर्नविचार कर सकती है।

गंभीर की नजर में बकवास है ये नियम

इंग्लैंड के इस तरह विश्व चैंपियन बनने के बाद सोशल मीडिया पर आईसीसी के इस नियम की काफी आलोचना हो रही। अालोचकों में पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर का नाम भी जुड़ गया। गंभीर इंग्लैंड के विश्वकप जीतने पर खुश नहीं हैं। 2011 विश्वकप में भारत की जीत में मुख्य भूमिका निभाने वाले गौती का मानना है कि किसी टीम को सिर्फ इसलिए वर्ल्डकप ट्राॅफी नहीं दे सकते, जिसने बाउंड्री ज्यादा लगाई हों। गंभीर ने उस वक्त अपने अफिशल टि्वटर अकाउंट पर इसको लेकर एक ट्वीट भी किया था। गंभीर लिखते हैं, 'इस तरह का खेल समझ नहीं आता। क्रिकेट विश्व कप 2019 का विजेता उसे बनाया गया जिसने बाउंड्री ज्यादा लगाई। कितना बकवास है आईसीसी का ये नियम। ये मैच टाई होना चाहिए था। मैं इंग्लैंड और न्यूजीलैंड दोनों को बधाई देना चाहता क्योंकि दोनों ही विनर हैं।'

Sir Garry Sobers बर्थडे : जब आउट होने पर 'गिरफ्तार' हो गए थे पूर्व वेस्टइंडीज क्रिकेटर गैरी सोबर्स

ऑस्ट्रेलियाई पेसर ने भी कहा- बदलो नियम

गंभीर के अलावा पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ब्रेट ली भी इस नियम के बदलने के फेवर में हैं। ली ने भी ट्वीट किया कि, 'इंग्लैंड को बधाई और न्यूजीलैंड को हमदर्दी। मुझे कहना पड़ेगा कि विनर को चुनने का यह काफी हैरान करने वाला तरीका है। इस नियम को बदलना चाहिए।'

38 रन पर ऑलआउट हुई आयरलैंड की टीम, टूटा 122 साल पुराना रिकाॅर्ड

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk