हॉस्टल में चलेगा 'सफाई अभियान'

यूनिवर्सिटी प्रशासन ने अभी तक चिह्नित किए हैं 60 स्टूडेंट्स

हॉस्टल में चलेगा अभियान, बाहरी छात्रों पर होगी सख्त कार्रवाई

Meerut। यूनिवर्सिटी कैंपस के हॉस्टल में अवैध रूप से रह रहे छात्रों के बीच अक्सर मारपीट की खबरें आती रहती हैं। इसके मद्देनजर ही अब यूनिवर्सिटी प्रशासन हॉस्टल में अवैध रूप से रह रहे छात्रों के खिलाफ अभियान चलाएगा। यूनिवर्सिटी वीसी प्रो। एनके तनेजा ने अवैध रूप से हॉस्टल में रह रहे स्टूडेंट्स पर कार्रवाई करने के लिए निर्देश दिए हैं। ऐसे निर्देश यूनिवर्सिटी कैंपस में अनुशासन बनाए रखने के लिए दिए गए हैं। इसके बाद से सभी वार्डन ऐसे स्टूडेंट्स का डाटा जुटा रहे हैं। यूनिवर्सिटी प्रशासन के मुताबिक हॉस्टल में अवैध रूप से रह रहे ऐसे स्टूडेंट्स के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी।

60 को किया है चिह्नित

वीसी के निर्देशों के बाद यूनिवर्सिटी के हॉस्टल्स में रहने वाले ऐसे अवैध स्टूडेंट्स को चिह्नित किया जा रहा है। इनकी लिस्ट तैयार की जा रही है। अभी तक ऐसे 60 स्टूडेंट्स की लिस्ट यूनिवर्सिटी स्तर से तैयार की जा चुकी है, जिनकी जांच की जा रही है। रजिस्ट्रार के अनुसार उनकी जांच के बाद ही तय किया जाएगा कि वो वास्तव में अवैध है या नहीं, अगर ये स्टूडेंट्स अवैध पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी। फिलहाल अभी लिस्ट फाइनल नहीं हुई है। हालांकि, यूनिवर्सिटी प्रशासन ने 60 छात्रों की सूची अब तक तैयार की है। बस जांच के बाद आखिरी मुहर लगना बाकी है।

आईडी दर्ज करें

यही नहीं वीसी ने यूनिवर्सिटी कैंपस में बिना अनुमति हो रहे स्टूडेंट्स के कार्यक्रमों पर भी नाराजगी जताई है। साथ ही ऐसे कार्यक्रमों में निष्कासित और प्रतिबंधित स्टूडेंट्स की मौजूदगी पर भी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही सभी विभाग अध्यक्षों से अपनी मेल आईडी रजिस्ट्रार ऑफिस में दर्ज कराने को कहा है। वीसी ने भविष्य में सभी कम्युनिकेशन ईमेल से करने के निर्देश दिए हैं। इससे समय व पेपर की बचत होगी व सबकुछ ऑन पेपर होगा। हेड व टीचर्स को क्लास में भी समय से पहुंचने को कहा है।

ऐसे स्टूडेंट जो बाहरी हैं, यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में अवैध रुप से रह रहे है, कैम्पस की छवि को धूमिल करते हैं, उनकी चेकिंग की जा रही है। ऐसे स्टूडेंट के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी।

प्रो। एनके तनेजा वीसी, सीसीएसयू

ये हैं पुराने मामले

मई 2019

केपी हॉस्टल के स्टूडेंट व कुछ बाहरी स्टूडेंट ने मिलकर मेस संचालक पर हमला किया था। इस मामले में केस दर्ज किया गया था।

फरवरी 2019

सीसीएसयू के पं। दीनदयाल हॉस्टल के सामने ही दो गुटों में मारपीट व फायरिंग हुई थी, मामले में बाहरी छात्र ही थे।

जनवरी 2019

केपी हॉस्टल में शराब की बोतल पकड़े जाने पर संबंधित स्टूडेंट्स पर एफआईआर दर्ज हुई थी।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner