कानपुर। भारतीय क्रिेकट टीम को एक से बढ़कर एक बल्लेबाज मिले। उन्हीं में से एक हैं पूर्व भारतीय क्रिकेटर चेतन चौहान। दाएं हाथ के बल्लेबाज चेतन चौहान का आज 72वां जन्मदिन है। यूपी के बरेली में जन्में चेतन 70-80 के दशक में टीम इंडिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में गिने जाते थे। सिर्फ भारत ही नहीं विदेशों में भी चेतन का बल्ला जमकर चलता था। तेज गेंदबाजों के खिलाफ लाइन के पीछे आकर शाॅट लगाने की कला उन्हें सबसे अलग बनाती थी। एक दौर था जब गावस्कर और चौहान की ओपनिंग जोड़ी विश्व प्रसिद्घ थी।

ओपनिंग साझेदारी के लिए मशहूर
चेतन ने 22 साल की उम्र में न्यूजीलैंड के खिलाफ डेब्यू किया था। पहले मैच में चौहान ज्यादा रन तो नहीं बना पाए मगर अपनी 18 रनों की पारी में एक छक्का और 2 चौके लगाकर अपनी काबिलियत का परिचय दे दिया था। धीरे-धीरे समय गुजरता गया और वह भारतीय बल्लेबाजी क्रम की मजबूत कड़ी बन गए। साल 1979 में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में गावस्कर के साथ 213 रन की ओपनिंग पार्टनरशिप कोई नहीं भूल सकता। इस पारी में चौहान ने रन तो सिर्फ 80 बनाए मगर पांच घंटे से ज्यादा क्रीज पर टिके रहे। उस समय इंग्लिश टीम में इयाॅन बाॅथम, हेड्रिक, विली और गूच जैसे गेंदबाज थे। बावजूद इसके उन्होंने क्रीज पर ऐसे पैर जमाए कि गेंदबाजों को उन्हें आउट करने में पसीने छूट गए। 70 के दशक के आखिर और शुरुआती 80 में चौहान ने गावस्कर के साथ मिलकर करीब 10 शतकीय साझेदारियां की जोकि किसी रिकाॅर्ड से कम नहीं।

12 साल के करियर में नहीं लगा पाए सेंचुरी
चेतन चौहान ने करीब 12 साल तक इंटरनेशनल क्रिकेट खेला। जिसमें उन्होंने 40 टेस्ट मैचों में 31.57 की औसत से 2084 रन बनाए। इसमें 16 हाॅफसेंचुरी भी शामिल हैं। चौहान अपने पूरे करियर में कभी शतक नहीं लगा पाए, उनका हाईएस्ट स्कोर 97 रन है जोकि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था। टेस्ट इतिहास में चेतन पहले ऐसे क्रिकेटर हैं जिसने 2 हजार या उससे ज्यादा रन बनाए मगर शतक नहीं लगा पाए। इस लिस्ट में दूसरा नाम शेन वार्न का है।

ऐसा है फर्स्ट क्लाॅस करियर

इस दिग्गज क्रिकेटर के फर्स्ट क्लाॅस करियर की बात करें तो चेतन ने 179 मैच खेले हैं जिसमें 40.22 की औसत से 11143 रन बनाए। इसमें 21 शतक और 59 अर्धशतक भी शामिल हैं। प्रथम श्रेणी क्रिकेट में चेतन का हाईएस्ट स्कोर 207 रन है।

फिलहाल क्रिकेट नहीं खेलेंगे धोनी, करने जा रहे लेफ्टिनेंट कर्नल की नौकरी

1 अगस्त से क्रिकेट में नया नियम लागू, अब रिटायर्ड हर्ट होने पर नया बल्लेबाज आकर करेगा बल्लेबाजी

बन चुके हैं सासंद
क्रिकेट से रिटायर होने के बाद चेतन चौहान राजनीति में आ चुके हैं। इस समय वह भाजपा सांसद हैं। बीजेपी की टिकट से उन्होंने उत्तर प्रदेश के अमरोहा से दो बार लोकसभा चुनाव लड़ा और जीत मिली।

Cricket News inextlive from Cricket News Desk