लंदन (पीटीआई)। खेल का महाकुंभ कहे जाने वाले ओलंपिक में क्रिकेट को शामिल करने की मांग काफी समय से उठ रही है। आईसीसी ने इस पर कई बार विचार किया मगर अब लगता है कि 2028 में यह सपना सच हो जाएगा। एमसीसी वर्ल्ड क्रिकेट कमेटी के चेयरमैन माइक गेटिंग ने आईसीसी के साथ मिलकर ओलंपिक में क्रिकेट खेले जाने को लेकर आपसी सहमति बना ली है। पूर्व इंग्लिश खिलाड़ी गेटिंग का कहना है कि आईसीसी के नए चीफ एक्जीक्यूटिव मनु सहाने इस बार पूरी कोशिश में लगे हैं ताकि 2028 तक क्रिकेट को ओलंपिक में खेलने की अनुमति मिल जाए।

दुनिया के सबसे बड़े स्पोर्ट इवेंट में क्रिकेट भी
माइक गेटिंग का कहना है कि, उन्होंने मनु सहाने से बातचीत की है और उन्हें पूरी उम्मीद है कि क्रिकेट अब दुनिया के सबसे बड़े स्पोर्ट इवेंट में शामिल कर लिया जाएगा। अगर ऐसा होता है तो यह क्रिकेट जगत के लिए किसी बड़ी बोनस से कम नहीं होगा। बता दें इस साल की शुरुआत में पूर्व भारतीय दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने भी क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करने की सिफारिश की थी। गेटिंग आगे कहते हैं, 'यह सिर्फ दो सप्ताह की बात होगी न कि पूरे महीने की। इसलिए यह उन टूर्नामेंट्स में से होगा, जिसमें दो सप्ताह का कार्यक्रम बनाने में परेशानी नहीं आएगी।'

टीम इंडिया के नए कोच के लिए 6 नामों को किया गया शाॅर्टलिस्ट, जानें लिस्ट में कौन-कौन


काॅमनवेल्थ में महिला क्रिकेट की घोषणा
बताते चलें कि हाल ही में महिला क्रिकेट को 2022 में होने वाले बर्मिंघम काॅमनवेल्थ गेम्स में शामिल करने की घोषणा की गई थी। माइक गेटिंग कहते हैं, 'मुझे लगता है कि कल या एक-दो दिन में इस बारे में बयान आ जाएगा कि महिला क्रिकेटर एजबेस्टन में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में शिरकत करेंगी या नहीं। हमें उम्मीद है कि इस मामले में मंजूरी मिल जाएगी, जो शानदार होगा।' काॅमनवेल्थ गेम्स में पहली बार क्रिकेट को 1998 में शामिल किया गया था।

Shoaib Akhtar Birthday : जानें किस बल्लेबाज ने खेली थी शोएब अख्तर की सबसे तेज बाॅल

Cricket News inextlive from Cricket News Desk