पुलिस ने उपचार के लिए मेडिकल कॉलेज में कराया था भर्ती

डयूटी के दौरान सोने वाले सिपाही व होमगार्ड हुए गिरफ्तार

meerut@inext.co.in
MEERUT :
  मुठभेड़ में गिरफ्तार हुआ इनामी बदमाश पुलिसकर्मियों को चकमा देकर मेडिकल अस्पताल से फरार हो गया. मौके पर पहुंचे एसपी देहात राजेश कुमार ने कांस्टेबल व होमगार्ड के खिलाफ लापरवाही का मुकदमा दर्ज कराया. मेडिकल पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके कांस्टेबल व होमगार्ड को गिरफ्तारर लिया.


पैर में लगी थी गोली

शनिवार देर रात गंगानगर थाना क्षेत्र में आईआईएमटी कॉलेज के पास पुलिस की बदमाशों से मुठभेड़ हो गई थी. पुलिस की गोली लगने से बदमाश जयदेवी नगर निवासी आकाश तोमर घायल हो गया था. पुलिस ने उसे मेडिकल इमरजेंसी के ट्रोमा सेंटर में भर्ती कराया था. मेडिकल के डाक्टरों ने उसका अस्पताल में भर्ती करके इलाज शुरू कर दिया था.

 

सुरक्षा में थी पुलिस

डाक्टरों ने घायल बदमाश को मेडिकल इमरजेंसी के बेड नंबर छह पर भर्ती कराया था. उसकी सुरक्षा में गंगा नगर थाने से सिपाही अंकित व होमगार्ड शिव कुमार को लगाया गया. रविवार तड़के करीब पांच बजे आकाश गायब हो गया तो पुलिसकर्मियों में खलबली मच गई.

 

सो रहे थे पुलिसकर्मी

घटनाक्रम के दौरान पुलिसकर्मी सो रहे थे. जबकि पुलिस कर्मियों ने अपनी जान बचाने के लिए अपने अधिकारियों से कहा कि बदमाश शौचालय से फरार हो गया है. लेकिन साथ में भर्ती मरीजों का कहना है कि पुलिस कर्मी सो रहे थे. बदमाश हाथ से हथकड़ी निकाल कर फरार हो गया. एसपी देहात राजेश कुमार ने पुलिसकर्मी अंकित व होमगार्ड शिव कुमार पर मेडिकल थाने में मुकदमा दर्ज कराया.

 

रात में कराया था भर्ती

मेडिकल डॉक्टर्स का कहना है कि आकाश नाम के युवक को पुलिस ने 12.30 मिनट पर भर्ती कराया गया था. उसकी सुरक्षा में पुलिस बल भी तैनात था. सुबह जब उन्हें पता चला कि बदमाश पुलिस को चकमा देकर भाग गया है तो उन्होंने मेडिकल पुलिस को सूचना दी.

 

सुरक्षा में उठे सवाल

मेडिकल में सुरक्षा के नाम पर करोड़ों रुपये खर्च किए जा चुके है. सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं. इमरजेंसी गेट पर होमगार्ड की भी तैनात है. इमरजेंसी गेट के भीतर ही पुलिस चौकी भी बनी हुई है. इतनी सुरक्षा के बावजूद बदमाश कैसे फरार हो गया?


कार में सवार होकर भागा

शनिवार देर रात गिरफ्तार हुए बदमाश आकाश तोमर ने रात में ही पुलिस सुरक्षा से भागने की प्लानिंग शुरू कर दी थी. उसने अस्पताल में एक युवक से फोन लेकर अपने परिजनों को गाड़ी लेकर बाहर बुला लिया था. इसके बाद वह सुबह पांच बजे के बाद पुलिस कर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया.


बेड से बंधी थी हथकड़ी

पुलिस कर्मियों ने उसकी हथकड़ी बेड से बांध रखी थी. इसके बाद दोनों पुलिस कर्मी सो गए. बदमाश ने हाथ से हथकड़ी निकाली. उनके सामने से ही आराम से फरार हो गया. होमगार्ड व पुलिस कर्मी वहीं पर सोते रहे.

 

गंगा नगर थाने का सिपाही अंकित व होमगार्ड शिवकुमार के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया गया है.

सतीश कुमार एसओ मेडिकल