- दागदार हो रहा महकमा, कभी खुद तो कभी परिजन लगा रहे दाग

- लूट की नकदी-बाइक और तमंचा पुलिस ने किया बरामद

GORAKHPUR: शहर में एक बार फिर वर्दी दागदार हुई है. इस बार पुलिस ने दीवान के बेटे सहित दो शातिरों को लूट की नकदी सहित अरेस्ट किया. बेलीपार एरिया के बगहाबीर बाबा मंदिर के पास चेकिंग के दौरान पुलिस को कामयाबी मिली. एसपी साउथ विपुल कुमार ने बताया कि पकड़े गए बदमाशों की पहचान बेलीपार, ढाढ़ाखुर्द निवासी जय गोपाल यादव उर्फ पिंटू उर्फ व्यापारी, मलांव के सत्यम चौरसिया के रूप में हुई. दोनों के पास से नकदी के अलावा बाइक और तमंचा भी मिला.

कई घटनाओं में थी तलाश

गुरुवार की रात बगहाबीर बाबा मंदिर के पास पुलिस ने बैरियर लगाया था. तभी मुखबिर से सूचना मिली कि दो युवक बाइक से कौड़ीराम, कसिहार की तरफ आ रहे हैं. घेराबंदी करने पर दोनों ने भागने की कोशिश की लेकिन बेकाबू होकर बाइक सहित गिर पड़े. उनके पास से तमंचा मिलने पर पुलिस का शक गहरा गया. पूछताछ में पता लगा कि अगस्त माह में दोनों ने लूटपाट की थी. करीब चार माह से क्षेत्र में उनकी दहशत फैली थी. 16 अगस्त को बदमाशों ने देवरिया, एकौना निवासी खिलाड़ी के बेटे धर्मराज पासवान को तमंचा सटाकर सोने की चेन, पांच हजार रुपए नकद लूट लिया था. वह अपनी बहन के घर से राखी बंधवाकर लौट रहे थे. 18 अगस्त को मिर्जापुर, जफरपुरा निवासी बत्तख व्यापारी रामदेव के बेटे महेश सोनकर को पीटकर सोने का लॉकेट और चांदी लूट ली थी.

महराजगंज में तैनात दीवान का बेटा जय गोपाल

लूटपाट के आरोप में अरेस्ट जय गोपाल के पिता रामाज्ञा यूपीपी में हेड कांस्टेबल हैं. उनकी तैनाती महराजगंज जिले में है. जबकि जय गोपाल के चाचा वर्तमान में देवरिया के एकौना में दरोगा हैं. एसपी ने बताया कि जय गोपाल भी अपने बेटे की हरकतों से परेशान हैं. बीए फ‌र्स्ट ईयर का स्टूडेंट जय गोपाल अपने पिता और चाचा के नाम पर पुलिस कर्मचारियों पर धौंस जताता था. मामूली मामलों में उस पर कार्रवाई से पुलिस हिचकती थी. दोनों ने लूट की ज्वेलरी बेलीपार के पुनीत वर्मा को बेची थी. पुनीत को पुलिस पहले ही अरेस्ट कर चुकी है.

वर्जन

लूट के आरोप में दो युवकों को अरेस्ट किया गया है. उनसे पूछताछ में जो जानकारी मिली है उसके आधार पर आगे की जांच पड़ताल की जा रही है.

विपुल कुमार श्रीवास्तव, एसपी साउथ