रांची (ब्यूरो)। सबसे चौंकाने वाली बात तो यह है कि बीजेपी ने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ताला मरांडी और मुख्य सचेतक राधाकृष्ण किशोर का भी टिकट काट दिया है। दूसरी ओर, सारी आशंकाओं को निर्मूल साबित करते हुए नगर विकास मंत्री और मौजूदा रांची विधायक सीपी सिंह ने टिकट पाने में सफलता हासिल कर ली है। पिछले एक महीने से राजनीतिक हल्कों में इस बात की चर्चा थी कि सीपी सिंह को बढ़ती उम्र के कारण पार्टी इस बार टिकट नहीं देगी और उनकी जगह कोई युवा चेहरे पर भरोसा जताया जाएगा। इसके साथ ही दूसरी पार्टियां छोड़ कर बीजेपी में हाल ही में शामिल हुए छह में से पांच विधायकों को टिकट दे दिया है।

30 विधायकों पर भरोसा

52 उम्मीदवारों की इस लिस्ट में मुख्यमंत्री रघुवर दास समेत 30 विधायकों पर पार्टी ने दोबारा भरोसा जताया है। लोकसभा चुनाव हार चुके प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा को एक और मौका दिया गया है। वे चक्रधरपुर से चुनाव लड़ेंगे। अपने मंत्रियों पर भी बीजेपी का भरोसा कायम रहा है। सीपी सिंह, राज पालिवार, नीरा यादव, रणधीर सिंह, डॉ लुइस मरांडी, रामचंद्र चंद्रवंशी को पार्टी ने चुनावी रण में एक बार फिर उतारा है। पार्टी ने मंत्री सरयू राय, नीलकंठ सिंह मुंडा व अमर बाउरी की सीट को फिलहाल होल्ड पर रखा है। रविवार शाम पांच बजे भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा की उपस्थिति में राष्ट्रीय महामंत्री अरुण सिंह ने भाजपा प्रत्याशियों की घोषणा की।

विवादित सीट होल्ड पर

दूसरे दलों को छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले विधायकों को पार्टी ने टिकट का तोहफा देकर नवाजा है। इनमें बरही से मनोज यादव, मांडू से जेपी पटेल, भवनाथपुर से भानु प्रताप शाही, बहरागोड़ा से कुणाल षाडंगी व लातेहार से प्रकाश राम शामिल हैं। आजसू और भाजपा में गठबंधन के पेंच को देखते हुए लोहरदगा सीट को फिलहाल होल्ड पर रखा गया है। झामुमो छोड़कर पार्टी में शामिल हुए शशिभूषण मेहता को भी पांकी से पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया है।

झरिया विधायक की पत्नी बनीं प्रत्याशी

10 विधायकों के टिकट कटने की वजह पार्टी की आंतरिक सर्वे रिपोर्ट को बताया जा रहा है। इनमें वरिष्ठ विधायक और विधानसभा में सत्ताधारी दल के मुख्य सचेतक राधाकृष्ण किशोर का भी टिकट भी काटा गया है। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ताला मरांडी के टिकट कटने का तो शुरू से ही अंदेशा जताया जा रहा था। अन्य विधायकों की परफार्मेस उनके टिकट कटने की वजह रही है। झरिया विधायक संजीव सिंह की जगह उनकी पत्‌नी को टिकट देकर क्षतिपूर्ति की गई है।

इन्हें मिला टिकट

- विधानसभा क्षेत्र : प्रत्याशी

- राजमहल : अनंत ओझा

- बोरियो (एसटी) : सूर्या हांसदा

- बरहेट (एसटी) : सीमोन माल्तो

- लिट्टीपाड़ा (एसटी) : दानियल किस्कू

- महेशपुर (एसटी): मिस्त्री सोरेन

- शिकारीपाड़ा (एसटी) : पारितोष सोरेन

- नाला : सत्यानंद झा बाटुल

- जामताड़ा : वीरेंद्र मंडल

- दुमका (एसटी) : लुइस मरांडी

- जामा (एसटी): सुरेश मुर्मू

- जरमुंडी : देवेंद्र कुंवर

- मधुपुर : राज पालिवार

- सारठ : रणधीर सिंह

- देवघर (एससी) : नारायण राम दास

- गोड्डा : अमित मंडल

- महागामा : अशोक कुमार भगत

- कोडरमा : नीरा यादव

- बरही : मनोज यादव

- मांडू : जेपी पटेल

- हजारीबाग : मनीष जायसवाल

- सिमरिया (एससी) : किशुन कुमार दास

- चतरा (एससी) : जनार्दन पासवान

- बागोदर : नागेंद्र महतो

- जमुआ (एससी) : केदार हाजरा

- गिरिडीह : निर्भय शाहाबादी

- बेरमो : योगेश्वर महतो बाटुल

- सिंदरी : इंद्रजीत महतो

- धनबाद : राज सिन्हा

- झरिया : रागिनी सिंह

- बाघमारा : ढुलू महतो

- बहरागोड़ा : कुणाल षाडंगी

- घाटशिला (एसटी) : लखन मार्डी

- पोटका (एसटी): मेनका सरदार

- जमशेदपुर पूर्वी : रघुवर दास

- ईचागढ़ : साधु चरण महतो

- मनोहरपुर (एसटी) : गुरु चरण नायक

- चक्रधरपुर (एसटी): लक्ष्मण गिलुवा

- तोरपा (एसटी) : कोचे मुंडा

- खिजरी (एसटी) : रामकुमार पाहन

- रांची : सीपी सिंह

- हटिया : नवीन जायसवाल

- गुमला (एसटी) : मिसिर कुजूर

- विशुनपुर (एसटी): अशोक उरांव

- सिमडेगा (एसटी): सदानंद बेसरा

- मनिका (एसटी) : रघुपाल सिंह

- लातेहार (एससी) : प्रकाश राम

- पांकी : शशिभूषण मेहता

- डालटनगंज : आलोक चौरसिया

- विश्रामपुर : रामचंद्र चंद्रवंशी

- छतरपुर (एससी): पुष्पा देवी

- गढ़वा : सत्येंद्र नाथ तिवारी

- भवनाथपुर : भानुप्रताप शाही

इन विधायकों का कटा टिकट

ताला मरांडी (बोरियो), गणेश गंझू (सिमरिया), जयप्रकाश सिंह भोक्ता (चतरा), फूलचंद मंडल (सिंदरी), लक्ष्मण टूडू (घाटशिला), शिवशंकर उरांव (गुमला), विमला प्रधान (सिमडेगा), हरिकृष्ण सिंह (मनिका), राधाकृष्ण किशोर (छतरपुर)। झरिया विधायक संजीव सिंह की जगह उनकी पत्‌नी रागिनी सिंह को टिकट दिया गया है।

गठबंधन को लेकर भाजपा व आजसू दोनों झुकीं

विधानसभा चुनाव के तहत गठबंधन को लेकर रविवार को भाजपा और आजसू दोनों दल झुके। आजसू द्वारा लोहरदगा तथा चंदनकियारी सहित 19 सीटों पर दावेदारी कर गेंद भाजपा के पाले में डालने के बाद भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने रविवार को आजसू के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश महतो को दोबारा बातचीत के लिए दिल्ली बुलाया। रांची में संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद मीडिया से रूबरू होते हुए सुदेश ने कहा कि रविवार को दिन में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से उनकी बातचीत हुई। इसमें उन्होंने अमित शाह को उन सीटों के बारे में अवगत कराया जिनपर पार्टी ने चुनाव लड़ने की पूरी तैयारी की है और जहां उनकी पार्टी पूरी तरह मजबूत भी है। रविवार को ही रात पौने ग्यारह बजे दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ फिर से बैठक होगी, जिसमें सीट शेय¨रग को अंतिम रूप दिया जाएगा। वे इस बैठक में झारखंड के लंबित वैधानिक विषयों पर भी चर्चा करेंगे। इस तरह, सुदेश झारखंड के कुछ मुद्दों को लेकर भाजपा के समक्ष शर्ते भी रख सकते हैं।

आजसू की पहली सूची आज

आजसू पार्टी सोमवार को उम्मीदवारों की पहली सूची जारी करेगी। इसकी जानकारी देते हुए सुदेश ने कहा कि पहले चरण की सीटों पर नामांकन के लिए सिर्फ दो दिन बच गए हैं। ऐसे में उम्मीदवारों की घोषणा करना जरूरी है।

ranchi@inext.co.in

Posted By: Sudhir Jaiswal

inext-banner
inext-banner