अपराधी बेखौफ दिनदहाड़े लूट

2019-11-09T06:00:49Z

रानी मंडी में चीनी के थोक कारोबारी के साथ हुई वारदात

बैग में 22 लाख रुपये लेकर बैंक में जमा करने जा रहा था व्यापारी

बाइक से आए दो बदमाश, गिर गया असलहा गोली, बैग छीन ले गये

PRAYAGRAJ: अयोध्या पर आने वाले फैसले को देखते हुए हाई एलर्ट पर चल रही पुलिस को शुक्रवार को दिनदहाड़े बदमाशों ने गच्चा दे दिया। चीनी के थोक कारोबारी को तमंचा सटाकर बदमाश रुपयों से भरा बैग ले उड़े। बैग में 22 लाख रुपये रखे हुए थे। भाग रहे बदमाश को व्यापारी ने पकड़ने की कोशिश की। इस चक्कर में बदमाश का तमंचा और कातूस मौके पर ही गिर गया। शुक्रवार दोपहर करीब सवा तीन बजे हुई घटना से हड़कंप मच गया। अतरसुइया थाने की पुलिस के साथ एडीजी सुजीत कुमार पांडेय, एसएसपी व एसपी सिटी मौके पर पहुंच गये। आनन-फानन में चेकिंग शुरू करा दी गयी लेकिन देर रात तक कोई नतीजा सामने नहीं आया था।

गुड़ मण्डी में दुकान, रानी मंडी में मकान

अतरसुइया थाना क्षेत्र के रानीमंडी के समीप स्थित गंगादास की गली निवासी कृष्ण कुमार केसरवानी पुत्र बंशी लाल चीनी के थोक व्यापारी हैं। गुड़ मण्डी में उनकी दुकान है। कई दिनों से व्यापार के लिए कैश ट्रांजैक्शन उन्होंने किया लेकिन इसे बैंक में जमा नहीं किया। यह एमाउंट बड़ा हो गया और अगले दो दिन बैंक बंदी की सूचना के बाद उन्होंने कैश बैंक में जमा करने का निर्णय लिया। शुक्रवार दोपहर बाद करीब सवा तीन बजे 22 लाख रुपये बैग में रख कर वह एसबीआई की जानसेनगंज शाखा में जमा करने के लिए पैदल ही निकले। जैसे ही वह मेन रोड पर पहुंचे पहले से ब्लैक कलर की बाइक से खड़े बदमाशों ने उन्हें रोक लिया। वह कुछ समझ पाते कि लुटेरों ने तमंचा सटा दिया और रुपयों से भरा बैग अपने कब्जे में कर लिया। इससे वह पसीना-पसीना हो गए। बदमाश जाने लगे तो उन्होंने हिम्मत बटोरी और पीछे बैठे लुटेरे को पकड़कर खींच लिया। इस पर उसने तमंचा निकाल लिया। संयोग से वह लोडेड नहीं था। इससे व्यापारी का हौसला बढ़ाकर तो भागने की जल्दी में बदमाश के हाथ से तमंचा और कारतूस गिर गया। इसे पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है।

सबसे पहले पहुंचे एडीजी जोन

लुटेरों को भागते देख व्यापारी ने शोर मचाना शुरू कर दिया।

लोग पहुंचते इसके पहले लुटेरे आंखों से ओझल हो चुके थे।

व्यापारी से दिनदाहाड़े 22 लाख रुपये की लूट की खबर सुनते ही हड़कंप मच गया।

एडीजी जोन मौके पर पहुंचने वाले पहले सदस्य थे।

इसके बाद एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज व एसपी सिटी बृजेश कुमार श्रीवास्तव भी फोर्स के साथ पहुंचे

अधिकारियों ने बगैर देर किए चारों तरफ चेकिंग शुरू करा दिया।

व्यापारी की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात लुटेरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर लिया है।

बदमाशों को पकड़ने के लिए बनी दो टीमें

घटना दिन में तीन बजे के आसपास की है। व्यापारी की सूचना पर पुलिस एक्टिव हो गयी

गलियों के साथ मुख्य गलियों से लगने वाले मुख्य मार्गो पर चेकिंग लगा दी गयी

घटनास्थल के आसपास घर व दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज तलाशी जानी लगी

देर रात तक स्कैनिंग और चेकिंग जारी थी लेकिन पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा था

लुटेरों की तलाश के लिए एसएसपी ने दो टीमें उतार दी हैं। इसमें क्राइम ब्रांच के लोग भी हैं

व्यापारी का कहना है कि बैग में कुल बाइस लाख रुपये थे। पुलिस इस घटना के खुलासे को लेकर सीरियस है। एसएसपी ने लुटेरों की तलाश में दो टीमें लगा दी हैं। घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी के फुटेज चेक कराए जा रहे हैं। रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

बृजेश कुमार श्रीवास्तव,

एसपी सिटी

तीन दशक बाद हुई संकरी गलियों वाले एरिया में बड़ी वारदात

कोतवाली के बगल से टर्न लेकर रानी मंडी होते हुए अतरसुइया की तरफ जाने वाला रास्ता हमेशा व्यस्त रहता है। इस एरिया में गलियों का जाल है। इससे मूवमेंट भी हमेशा रहता है। इस एरिया में वर्किंग ऑवर्स में किसी घटना के बारे में सोचा भी नहीं जा सकता है। शुक्रवार को हुई घटना के बाद दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने पड़ताल शुरू की तो व्यवसायी पप्पन जी टंडन ने बताया कि अस्सी के दशक में ऐसी एक घटना खन्ना ज्वैजर्स शॉप में हुई थी। इसके बाद रिपोर्टर ने खन्ना परिवार के बेटे संजय खन्ना और उनकी पत्‍‌नी शिखा से सम्पर्क किया। संजय ने माथे पर बल डालने हुए बताया कि उनकी शॉप में घटना अस्सी के दशक में हुई थी। शाम छह-सात बजे के आसपास बदमाश पहुंचे और दुकान में बम फेंक कर दहशत फैला दी। वे दुकान से ज्वैलरी और कैश ले गये थे। इस घटना को पुलिस ने सीरियसली लिया और छानबीन में लग गयी तो पता चला कि यह काम वाराणसी के बदमाशों का है। पुलिस ने घेरा बिछाया। मुठभेड़ हुई। कुछ बदमाश इनकाउंटर में मरे तो कुछ ने बाद में अस्पताल में दम तोड़ दिया। संजय बताते हैं कि उस वक्त पुलिस ने काफी माल भी बरामद कर लिया था। इसके बाद इस एरिया में पुलिस पिकेट लगा दी गयी। तब से कोई यह सपने में भी नहीं सोचता था कि यहां भी कोई वारदात हो सकती है।

Posted By: Inextlive

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.