बलूच नेता ने बताई पाक सेना की घटिया करतूत, कहा करते हैं महिलाओं के साथ दुष्कर्म

बलूच नेता मेहरान मारी ने बताया है कि बलूचिस्तान में पाकिस्तान की सेना महिलाओं के साथ दुष्कर्म और निर्दोष लोगों की हत्याएं कर रही है। उन्होंने बताया कि पिछले एक महीने में पाक सेना के जवानों ने दो महिलाओं के साथ दुष्कर्म किया है।

Updated Date Tue, 17 Sep 2019 02:58 PM (IST)

लंदन (एएनआई)। अंतरराष्ट्रीय मंचों पर मानवाधिकार हनन की घटनाओं को लेकर आए दिन पाकिस्तान की पोल खुल रही है। अब एक बलूच नेता ने बलूचिस्तान में पाक सेना की नापाक करतूतों का पर्दाफाश किया है। बलूच नेता मेहरान मारी ने मंगलवार को लंदन में मीडिया से बात करते हुए कहा कि पाकिस्तानी सेना के जवान बलूचिस्तान में महिलाओं के साथ दुष्कर्म और सरेआम निर्दोष लोगों का कत्लेआम करते हैं, पिछले एक महीने में पाक सेना के जवानों ने बलूचिस्तान में दो महिलाओं के साथ दुष्कर्म किया है। उन्होंने बताया कि पाक सेना बलूचिस्तान में उसी नीति को दोहरा रही है जैसा कि उसने बांग्लादेश में अपने ऑपरेशन 'सर्चलाईट' के दौरान किया था।    पाक सेना के सभी अधिकारियों ने किया मानवता के खिलाफ अपराध
मारी ने कहा, 'एक महीने के अंतराल में, कायर पाकिस्तानी फौज के जवानों ने मरदान की एक महिला और दूसरी ग्वादर की महिला के साथ दुष्कर्म किया है। इसके लिए सिर्फ पाकिस्तानी सेना को दोषी ठहराया जाना चाहिए। चाहे पाकिस्तानी आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा हों, पर्वेज मुशर्रफ हों या पाकिस्तानी सेना का कोई दूसरा अधिकारी सभी ने मानवता के खिलाफ अपराध किया है। इन सबके नेतृत्व में बेगुनाहों की जानें गई हैं। बता दें कि बलूचिस्तान में पाक सरकार और सेना द्वारा किए जा रहे अत्याचार को उजागर करने के लिए मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और बलूच नेताओं ने दुनिया भर के कई प्रमुख स्थानों पर विरोध प्रदर्शन किए हैं। हाल ही में जेनेवा में आयोजित संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 42वें सत्र के दौरान भी उन्होंने जमकर पाकिस्तान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था। ट्रंप बोले, भारत और पाक के बीच कम हुआ है तनाव, जल्द ही होगी पीएम मोदी और इमरान खान से मुलाकातकई लोगों ने खोली है पाक सेना की पोलबता दें कि इससे पहले भी कई एक्टिविस्टों ने पाक सेना की पोल खोली है। UNHRC की बैठक के दौरान बलूच मानवाधिकार परिषद के जनरल सेक्रेटरी समद बलूच ने भी कहा था कि बलोच लोगों ने पाकिस्तानी फौज के अनेक अत्याचारों को झेला है। पाकिस्तान ने हमारे सामाजिक, सांस्कृतिक, आर्थिक अधिकारों को नकार दिया है। पाकिस्तान ने बलूचिस्तान को सिर्फ लूटा है, हमारे संसाधनों को लूटा है।

Posted By: Mukul Kumar
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.