Coronavirus in Uttar Pradesh: आगरा, कानपुर व मेरठ में कोरोना को लेकर योगी सरकार सख्‍त

Coronavirus in Uttar Pradesh: आगरा कानपुर व मेरठ में कोविड केयर को सीनियर अफसर कोरोना संक्रमित मामलों की लगातार बढ़ती संख्या पर सीएम योगी आदित्यनाथ का फैसला तीनों जिलों में लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश कामगारों और श्रमिकों को लाने के लिये 200 और ट्रेनों को अनुमति।

Updated Date: Sun, 10 May 2020 10:54 PM (IST)

लखनऊ (ब्‍यूरो)। आगरा, कानपुर नगर और मेरठ में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफे पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने गंभीर रुख अख्तियार किया है। उन्होंने इन तीनों जिलों में कोविड केयर की कमान सीनियर अफसरों को सौंपने का आदेश दिया है। इसके साथ ही इन जिलों में लॉकडाउन का पालन भी सख्ती से कराने का निर्देश दिया गया है। इसके साथ ही दूसरे राज्यों में फंसे कामगारों और श्रमिकों को वापस लाने के लिये 200 और ट्रेनों को अनुमति दी गई है।

दिन में दो बार देनी होगी रिपोर्ट

लोकभवन में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि सीएम ने कोविड केयर की कमान तीन सीनियर आईएएस व तीन सीनियर आईपीएस अफसरों को दी है। कानपुर नगर में उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण के एमडी अनिल गर्ग और आईजी दीपक रतन को तैनात किया गया है। इसी तरह आगरा में प्रमुख सचिव अवस्थापना आलोक कुमार और आईजी विजय कुमार को तैनाती दी गई है। मेरठ की कमान सिंचाई विभाग के प्रमुख सचिव टी व्यंकटेश और आईजी लक्ष्मी सिंह को दी गई है। सीएम योगी ने इन सभी अफसरों के साथ स्वास्थ्य विभाग के भी दो सीनियर अफसरों की तैनाती के आदेश दिये हैं। उन्होंने इन अफसरों से हर दिन सुबह और शाम रिपोर्ट शासन को भेजने का आदेश दिया है।

200 अन्य ट्रेनों को अनुमति

अपर मुख्य सचिव ने बताया कि सीएम के निर्देश पर यूपी के लिये लगातार श्रमिक स्पेशल टे्रनों का परिचालन किया जा रहा है। रविवार को भी 59 ट्रेनों से 70 हजार से अधिक लोगों की उत्तर प्रदेश में वापसी हुई है। आने वाले दिनों में करीब तीन लाख लोगों की वापसी का अनुमान है। उन्होंने बताया कि अभी तक 215 ट्रेन आ चुकी हैं या आने वाली हैं। यूपी में 40 जिलों के स्टेशन को श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के लिये तैयार किया गया है। उन्होंने बताया कि 200 और अतिरिक्त ट्रेनों को अनुमति दे दी गई है। ये ट्रेन अगले दो दिनों में आ जाएंगी। उन्होंने बताया कि ट्रेनों से आने वाले लोगों का स्टेशन पर ही मेडिकल जांच कराई जा रही है। इसके बाद उन्हें होम क्वारंटीन के लिए भेजा जा रहा है।

हर रोज होंगे 10 हजार टेस्ट

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि फिलहाल प्रदेश में पांच हजार कोरोना संक्रमितों के ब्लड का सैंपल टेस्ट किया जा रहा है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इसे बढ़ाकर 10 हजार करने का निर्देश दिया है। उन्होंने बताया कि 20 जिलों में अपर मुख्य सचिवए गृह ने बताया कि वर्तमान में प्रतिदिन चार से पांच हजार कोरोना संक्रमितों के ब्लड का सैंपल टेस्ट किया जा रहा है। सीएम योगी ने इसे 10 हजार करने का करने का निर्देश दिया है। उन्होंने बताया कि 20 जनपदों में 2931 तबलीगी जमात के लोगों की पहचान हुई है। इनमें से 2670 को क्वारंटाइन कराया गया है। साथ ही जमात के ही 325 विदेशी नागरिकों के खिलाफ 44 एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की गई है।

Posted By: Inextlive Desk
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.