रेलवे में सीट नहीं और हवाई यात्राएं भी महंगी सबसे मुश्किल वाराणसी से साउथ का सफर

2019-06-09T09:56:25Z

देश के विभिन्न प्रांतों में पहुंचने की कोशिश करने वालों को फिलहाल बनारस से राहत मिलने वाली नहीं है

हैदराबाद, चेन्नई संग अहमदाबाद की डगर कठिन, मुंबई-पुणे जाना भी आसान नहीं

रेलवे में सीट नहीं और हवाई यात्राएं भी महंगी, समर स्पेशल भी साबित हो रही अपर्याप्त

varanasi@inext.co.in
VARANASI: देश के विभिन्न प्रांतों में पहुंचने की कोशिश करने वालों को फिलहाल बनारस से राहत मिलने वाली नहीं है. रेलवे में तो बर्थ मिलने से रही और हवाई यात्रा इतनी महंगी है कि मध्यम वर्गीय परिवार का दिवाला निकल जाए. सबसे अधिक हालत खराब तो साउथ इंडिया की ओर जाने वालों की हो रही है. यहां के लिए न तो पर्याप्त ट्रेन है और न ही हवाई यात्राओं में रियायत मिल रही है. बनारस से चेन्नई, हैदराबाद, बंगलुरू और अहमदाबाद की डायरेक्ट फ्लाईट का फेयर भी पिछले एक माह में दोगुना बढ़ा है. बनारस और पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से गुजरने वाली ट्रेनों में वेटिंग लिस्ट इतनी है कि यात्री सफर ही कैंसिल कर दे रहा है. मुंबई, पुणे और नार्थ ईस्ट का भी सफर कष्टकारक है.

बनारस से बंगलुरू की ट्रेन
मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन से 15120 रामेश्वरम एक्सप्रेस चेन्नई व रामेश्वरम के लिए विकली चल रही है. रविवार की रात नौ बजे मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन से खुलती है. इसमें पिछले एक माह से लंबी वेटिंग चल रही है. इसके अलावा 12670 गंगा कावेरी एक्सप्रेस भी चेन्नई के लिए चलती है. मंगलवार और गुरुवार को यह ट्रेन दोपहर के सवा एक बजे खुलती है. पं.दीनदयाल उपाध्याय रेलवे स्टेशन से चेन्नई के लिए 12296 संघमित्रा एक्सप्रेस रोज चलती है. इसमें 28 जून तक 155 वेटिंग स्लीपर, थर्ड व फ‌र्स्ट एसी में 115 तक वेटिंग शो कर रहा है.

सिंकदराबाद भी जाना आसान नहीं
बनारस और मुगलसराय से सिकंदराबाद, हैदराबाद भी जाना आसान नहीं है. सिंकदराबाद के लिए समर स्पेशल चलाई गई. 07092 सिकंदराबाद स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन सप्ताह में शनिवार को पं.दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से रात को साढ़े बारह बजे खुलती है. जब से ट्रेन चली तब से रिजर्वेशन में रिग्रेट शो कर रहा है.

मुंबई, पुणे भी मुश्किल
पं दीनदयाल उपाध्याय रेलवे स्टेशन से 12321 हावड़ा मुंबई मेल, 12142 पटना-लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस और 13201 लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस रोजाना मुंबई पुणे के लिए चलती है. इसमें सीट पाना मानो भगवान के साक्षात दर्शन करने के बराबर है. बुकिंग काउंटर खुलते ही रिजर्वेशन फुल हो जाता है. बनारस से 12168 लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस, 11094 महानगरी एक्सप्रेस, 15018 गोरखपुर-लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस और 11072 कामायनी एक्सप्रेस रोजाना महाराष्ट्र के लिए चलती है. सभी में वेटिंग लिस्ट 25 जून तक 80 से 140 है.

उड़ भी नहीं पाएंगे

डायरेक्ट फ्लाईट फेयर

10000-12000

रुपये मुंबई से बनारस

 

9000-12000

रुपये बनारस से मुंबई

 

8000-10000

रुपये दिल्ली से बनारस

 

7000-10000

रुपये बनारस से नई दिल्ली

 

5000-6000

कोलकाता से बनारस

 

6000-9000

बनारस से कोलकाता

 

8000-10000

हैदराबाद से बनारस

 

10000-12000

बनारस से हैदराबाद

 

10000-12000

बंगलुरू से बनारस

 

14000-15000

बनारस से बंगलुरू

 

6000-7000

जयपुर से बनारस

 

8000-9000

बनारस से जयपुर

 

16000-18000

अहमदाबाद से बनारस

 

12000-15000

बनारस से अहमदाबाद

(नोट- ये आंकड़े टूर आपरेटर से लिए गए हैं)

सबसे ज्यादा डिमांड मुंबई-पुणे और हैदराबाद-चेन्नई की है. वहां जाने वाली ट्रेनों में एक माह तक कोई जगह नहीं है. एयर फेयर भी आसमान छू रहा है.

आकाश तिवारी, टूर आपरेटर


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.