ट्रोल करने वालों से अब कोई नहीं होगा परेशान! टि्वटर लाया है नया बेहतरीन समाधान

2018-05-16T21:10:02Z

टि्वटर पर ट्रोलिंग का शिकार बनने वाले सेलेब्रिटीज और आम लोगों के लिए टि्वटर ने एक अच्‍छी खबर सुनाई है। अब बैड ट्वीट्स और ट्रोल कमेंट्स पर काबू पाने के लिए कंपनी ने एक बेहतरीन तरीका निकाला है जिससे लोग ट्रोलिंग का शिकार बनने से बच सकेंगे।

बैड ट्वीट्स और ट्रोल कमेंट Twitter से हो जाएंगे गायब

कानपुर। दुनिया भर में आजकल टि्वटर पर ट्रोलिंग और एब्यूजिव लैंग्वेज वाले ट्वीट्स की भरमार हो गई है। इस कारण तमाम सेलेब्रिटीज को काफी शर्मिंदगी और परेशानी उठानी पड़ती है। इस प्रॉब्लम से निपटने के लिए यूं तो टि्वटर काफी समय से प्रयास कर रहा है। इसके लिए टि्वटर अपने प्लेटफॉर्म पर मौजूद हर एक ट्वीट को रैंक करता है, ताकि बैड ट्वीट्स को वो बहुत पीछे करके यूजर्स की नजरों से दूर कर सके। फिर भी लाख प्रयास के बावजूद टि्वटर पर ट्रोलिंग का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। इसी प्रॉब्लम का परमानेंट सॉल्यूशन करने के लिए टि्वटर के सीईओ जैक डॉर्सी ने बताया है कि हम टि्वटर पर ट्रोलिंग कंट्रोल करने के लिए बैड ट्वीट और कमेंट्स को बहुत हद तक गायब करने वाले हैं। जी हां, द वर्ज डॉट कॉम ने बताया है कि हम टि्वटर पर मौजूद हर तरह की ऐसी ट्वीट्स को बहुत हद तक छिपा देंगे, जो किसी भी मामले में यूजर्स द्वारा ब्लॉक , म्यूट या रिपोर्ट एब्यूज की गई हों।

 

ऑनलाइन ट्रोल और गाली गलौच करने वालों पर लगेगी लगाम

टि्वटर के ऑफीशियल ब्लॉग पर कंपनी ने बताया है कि हमारा उद्देश्य है कि प्लेटफॉर्म पर मौजूद हर एक बैड ट्वीट और ट्रोल कमेंट को हाइड करना, ताकि टि्वटर पर लोगों के बीच होने वाला कनवर्सेशन पूरी तरह से हेल्दी माहौल में हो सके। इसके लिए हम ट्वीट्स के रैकिंग सिस्टम में बड़ा सुधार करने जा रहे हैं। इसके जरिए हम हर एक ट्वीट पर आने वाले छोटे से छोटे रिस्पॉन्स सिग्नल्स को ट्रैक करेंगे, ताकि हमें पता चल सके कि किस ट्वीट पर यूजर्स को आपत्ति है। इसके अलावा यह ट्रैकिंग सिस्टम सिर्फ अंग्रेजी ही नहीं बल्कि सभी प्रमुख लैंग्वेज पर काम करेगा। कंपनी के मुताबिक हम बैड ट्वीट्स को डिलीट नहीं करेंगे, लेकिन उन्हें देख पाना मुश्किल कर देंगे, ताकि ज्यादातर लोग उन्हें न देख सकें।

इस नए Algorithm का क्या हुआ असर

टेकक्रंच वेबसाइट ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि कंपनी द्वारा ट्रोलिंग को रोकने के लिए शुरु किए गए इस नए सिस्टम के ट्रायल के दौरान पाया गया कि ट्वीट कंवर्सेशन के दौरान रिपोर्ट एब्यूज के मामलों में 8 परसेंट की कमी आई, जो बहुत शानदार है। कंपनी के मुताबिक अगले कुछ हफ्तों में बैड ट्वीट्स की ट्रैंकिंग का यह मैकेनिज्म अपना काम करना शुरु कर देगा। बता दें टि्वटर के इस नए मैकेनिज्म से ट्रोलर्स का भी मनोबल गिरेगा, क्योंकि अब ज्यादातर लोग उनके कमेंट्स और ट्वीट्स देख ही नहीं पाएंगे और टि्वटर ट्रोलर्स के अकाउंट की बेहतर ढंग से पहचान भी कर लेगा।

यह भी पढ़ें:

Google सबको दे रहा है सचमुच का पर्सनल असिस्टेंट! जो आपकी ओर से करेगा मोबाइल कॉल और बातचीत भी

लॉन्च हुआ सेट टॉप बॉक्स से भी छोटा सबसे दमदार PC, इसकी क्षमताएं जानकर सब हैं हैरान
अब माइक्रोसॉफ्ट आउटलुक पर ईमेल से ही कर सकेंगे सारे बिल पेमेंट! नहीं जाना पड़ेगा कहीं और


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.