एक दिन में कोरोना को सात नए पॉजेटिव, बीआरडी में युवक की मौत

Updated Date: Thu, 21 May 2020 05:30 AM (IST)

- सभी को किया गया आइसोलट, जिम्मेदारों की बढ़ी टेंशन

- गोरखपुर में कुल 28 केस

GORAKHPUR: गोरखपुर में बुधवार को कुल सात कोरोना पॉजिटिव केसेज सामने आने से हड़कंप मच गया। बुधवार की शाम तक जहां छह केसेज की पुष्टि हुई थी, वहीं देर शाम बीआरडी मडिकल कॉलेज में एडमिट रहे 35 वर्षीय युवक की मौत हो गई। उसकी कोरोना जांच रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। सीएमओ डॉ। श्रीकांत तिवारी ने इसकी पुष्टि की है। सीएमओ ने बताया कि शहर के झरना टोला में एक, कैंपियरगंज में दो, पिपराइच में दो और चरगांवा में एक केस सामने आया है। वहीं बीआरडी मडिकल कॉलेज में एक युवक की मौत हुई है। गोरखपुर में कुल 28 केस हैं। जबकि तीन की मौत हो चुकी है। वहीं 22 मरीजों का बीआरडी के आईसोलेशन वार्ड में इलाज चल रहा है। जबकि तीन स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं।

मुंबई से लौटा था खजनी का युवक

प्रवासी मजदूरों के आने के बाद से ही गोरखपुर में भी कोरोना केसेज बढ़ने शुरू हो गए हैं। आलम यह है कि गोरखपुराइट् सोशल मीडिया पर हर वक्त कोरोना के नए केसेज की अपडेट्स खोज रहे हैं। बुधवार को सात नए केस सामने आने पर जिम्मेदारों के होश उड़ गए। बता दें, बीआरडी मेडिकल कॉलेज के माइक्रोबायोलॉजी डिपार्टमेंट में प्रॉपर वे में गोरखपुर मंडल के सैंपल्स जांचे जा रहे हैं। इस क्रम में बुधवार को आई कोरोना रिपोर्ट में छह नए पॉजिटिव केस पाए जाने के बाद से ही सभी की टेंशन बढ़ गई है। सीएमओ डॉ। श्रीकांत तिवारी ने बताया कि कैंपियरगंज निवासी 65 वर्षीय व 60 वर्षीय बुजुर्ग में कोरोना की पुष्टि हुई है। जबकि पिपराइच निवासी 38 वर्षीय और 44 वर्षीय व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। झरना टोला निवासी 19 वर्षीय युवक भी संक्रमित पाया गया। युवक कोरोना संक्रमित का किराएदार बताया जा रहा है। वहीं, चरगांवा के परमेश्वरपुर निवासी एक युवक में कोरोना की पुष्टि हुई। वहीं बीआरडी मेडिकल कॉलेज में जिस 35 वर्षीय युवक की मौत हुई, वह खजनी के लखना बुजुर्ग का रहने वाला बताया जा रहा है। मिली जानकारी के मुताबिक, वह चार दिन पहले मुंबई से आया था। तबीयत खराब होने के बाद उसे बुधवार को बीआरडी मेडिकल कॉलेज के ट्रामा सेंटर में भर्ती किया गया था। देर शाम उसकी मौत हो गई। जांच के दौरान युवक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई। सीएमओ ने बताया कि जो भी डेथ के केसेज हैं, वह पहले से किसी न किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित थे।

बॉक्स

मेडिकल कॉलेज में जल्द होगी एक दिन में एक हजार जांच

कोरोना महामाही में लगातार बढ़ रहे केस की अपडेट लेने और निगम के काम को परखने के लिए मेयर सीताराम जायसवाल ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ। गणेश कुमार से भी मुलाकात की। प्रिंसिपल ने बताया कि अब 150 से 250 मरीज की जगह 400 मरीजों के प्रतिदिन सैंपल जांचे जा रहे हैं। यहां की कैपासिटी प्रतिदिन 500 की है। वहीं शासन और मेडिकल कॉलेज के प्रयास से रॉस कंपनी ने कोबास मशीन जल्द ही अवेलबल कराने का आश्वासन दिया है। इससे एक दिन में हजार मरीजों की जांच की जा सकेगी। शासन ने भी इसकी स्वीकृति प्रदान कर दी है।

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.