कंप्टीशन का 'आर्ट' पढ़ रहे छात्र

Updated Date: Wed, 28 Oct 2020 12:08 PM (IST)

सरकारी नौकरी की प्रतियोगी परीक्षाओं के मद्देनजर बीए में दाखिले का क्रेज

बीए में सबसे ज्यादा एडमिशन ले रहे छात्र

सबसे ज्यादा छात्र पॉलिटिकल साइंस की ओर दिखा रहे रुझान

बीएससी और बीकॉम की कॉलेजों में कई सीटें अभी खाली

Meerut। सीसीएसयू और संबद्धित कॉलेजों में इन दिनों यूजी के एडमिशन चल रहे हैं। इस बार बीए पॉलीटिकल साइंस, हिस्ट्री जैसे सब्जेक्ट में स्टूडेंट अधिक रुचि दिखा रहे है। ऐसा बताया जा रहा है बीकॉम व बीएससी जैसे सब्जेक्ट में स्टूडेंट की रुचि इस साल कम नजर आ रही है। दो मेरिट के एडमिशन होने के बाद भी एक लाख से अधिक सीटें खाली पड़ी है, वहीं इनमें बीकॉम, बीएससी की सीटें अधिक खाली है, वहीं इनमें भी बेटियों के एडमिशन की संख्या अधिक है, बताया जा रहा है अगर सीटें खाली रह जाती हैं तो दोबारा से रजिस्ट्रेशन ओपन किए जा सकते हैं ताकि खाली एक लाख से अधिक सीटों को भरा जा सके।

सीटें पड़ी है खाली

अगर डीएन कॉलेज में देखे तो वो कोएड कॉलेज है। उसमें बीए तो नहीं है पर बीकॉम में आधे ही एडमिशन हो पाए है। आधी सीटें खाली है, वहीं इस्माईल ग‌र्ल्स पीजी कॉलेज में बीए के लिए आधी सीटें भरी है जबकि बीकॉम में 80 में से मात्र 28 ही सीटें भर पाई है, बीएससी मैथ्स की बात करें तो उसमें तो 160 में सिर्फ 5 ही सीटें भरी है। मेरठ कॉलेज में बीए में आठ सौ में से पांच से अधिक सीटें भर चुकी है बीकॉम की सीटों की तुलना में आधी खाली है उनके भी अधिक ग‌र्ल्स ही है, एनएएस कॉलेज में बीए में 560 में से 142 सीटें भर चुकी है, बीकॉम में 240 में से केवल 31 ही सीटें भरी उनके भी 20 करीब तो ग‌र्ल्स ही है। आरजी में भी बीकॉम की सीटें अधिक खाली है, वहीं कनोहर लाल में बीए में 445 में से 282 सीटें भर चुकी और बीकॉम में 160 में से 65 ही सीटें भर पाई है, शहीद मंगल पांडे ग‌र्ल्स कॉलेज में बीए की 220 में से 102 सीटें भर चुकी है, बीकॉम की 80 में से बस 28 ही सीटें भरी है।

पॉलिटिकल साइंस पर जोर

कॉलेजों के अनुसार अधिकतर स्टूडेंट

पॉलिटिकल साइंस पर अधिक जोर दे रहे हैं। इस्माईल कॉलेज में 332 में से 290 ने पॉलिटिकल साइंस लिया है, वहीं मेरठ कॉलेज में पांच सौ में से 283 ने पॉलिटिकल साइंस सब्जेक्ट का चुनाव किया है। वहीं एनएएस में 142 में से करीब 72 ने पॉलिटिकल साइंस को चुना है। कनोहर लाल ग‌र्ल्स कॉलेज में 282 में से करीब 160 ने पॉलिटिकल साइंस सब्जेक्ट को ही चुना है, शहीद मंगल पांडे में 102 में से करीब 72 ने पॉलिटिकल साइंस को ही चुना है। ऐसे में पॉलिटिकल साइंस पर अधिक जोर दिया जा रहा है।

प्रतियोगिता की तैयारी

शिक्षाविदों के अनुसार यूपीएससी, पीसीएस, सिविल सर्विसेज, आईपीएस, लेखपाल आदि के एग्जाम में अधिकतर में पॉलिटिकल साइंस के सवाल अधिक आते है। ऐसे में सरकारी एग्जाम की तैयारियों को ध्यान में रखते हुए ही इस सब्जेक्ट को स्टूडेंट चुन रहे है, इसके सहारे वो सरकारी नौकरी की तैयारी करेंगे।

डीएन कॉलेज

कोर्स सीट ब्वॉयज गर्ल एडमिशन

बीकॉम 400 111 144 255

बीएससी बायो 240 32 96 128

बीएससी मैथ्स 240 70 58 128

बीएससी स्टैट 80 29 12 41

इस्माईल कॉलेज

कोर्स सीट ब्वॉयज गर्ल एडमिशन

बीए 640 0 332 332

बीकॉम 80 0 28 28

बीएससी मैथ्स 160 0 5 5

मेरठ कॉलेज मेरठ

कोर्स सीट ब्वॉयज गर्ल एडमिशन

बीए 880 310 191 501

बीकॉम 480 113 166 279

बीकॉम एलएलबी 120 15 18 33

बीएससी बायो 79 25 6 31

एनएएस कॉलेज

कोर्स सीट ब्वॉयज गर्ल एडमिशन

बीए 560 77 65 142

बीकॉम 240 10 21 31

बीएससी बायो 80 1 6 7

बीएससी मैथ्स 160 21 24 45

बीएससी स्टैट 40 8 10 18

आरजी ग‌र्ल्स पीजी

कोर्स सीट ब्वॉयज गर्ल एडमिशन

बीकॉम 240 0 138 138

बीएससी बायो 240 0 124 124

कनोहर लाल ग‌र्ल्स पीजी

कोर्स सीट ब्वॉयज गर्ल एडमिशन

बीए 445 0 282 282

बीकॉम 160 0 65 65

शहीद मंगल पांडे ग‌र्ल्स पीजी

कोर्स सीट ब्वॉयज गर्ल एडमिशन

बीए 220 0 102 102

बीकॉम 80 0 36 36

बीएससी बायो 80 0 28 28

बीएससी मैथ्स 80 0 34 34

दरअसल सरकारी नौकरी में पॉलिटिकल साइंस के सवाल अधिक आते है, इसी को ध्यान में रख्रते हुए स्टूडेंट इस तरह के सब्जेक्ट का चुनाव करते हैं।

प्रो। वाई विमला, प्रोवीसी, सीसीएसयू

इस बार बीए पर अधिक क्रेज है। उसमें भी ऐसे सब्जेक्ट चूज

किए जा रहे है जो पीसीएस जैसे एग्जाम में मददगार हो।

डॉ। नीलिमा गुप्ता, प्रिंसिपल, इस्माईल पीजी कॉलेज

सरकारी नौकरी की तरफ स्टूडेंट का रुझान अधिक है। इसी के चलते वो ऐसे सब्जेक्ट को च्वाइस कर रहे है।

डॉ। किरण प्रदीप प्रिंसिपल, कनोहरलाल

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.