आलू-टमाटर ने बिगाड़ा बजट

Updated Date: Wed, 18 Mar 2015 07:03 AM (IST)

- सब्जी मार्केट में परवल बना राजा तो भिंडी महारानी

- दुकानदार 20 रुपए पॉव के हिसाब से बेच रहे सब्जियां

- बेमौसम बारिश से फल-सब्जी के बाजार में भारी उछाल

Meerut बेमौसम बारिश से भले मौसम खुशनुमा हो गया हो, लेकिन किचन पर आफत आ गई है। सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं। व्यापारियों के मुताबिक बारिश के कारण कई सब्जियों की फसल बर्बाद हो गई तो कई जगह इनमें कीड़े लग गए। यही कारण है कि अनार और अंगूर जैसे फल भी बढ़ते दामों के साथ भाव खाने लगे हैं। दूसरे प्रदेशों से हरी सब्जियों की आवक सीजन से पहले शुरु हो गई है। इन दोनों वजह से ही सब्जियों के दाम जेब और किचन पर भारी पड़ रहे हैं।

आलू की कीमतों में हुआ इजाफा

एक महीने पहले आलू फ्0-ब्0 रुपए का पांच किलो मिल रहा था। लेकिन अब यह रेट भ्0-म्0 हो गया है और आने वाले दिनों में आलू के मूल्यों में और भी उछाल आने वाला है। बारिश के कारण आलू की फसलों को सबसे अधिक नुकसान हुआ है। आलू सड़ने गलने से आलू की कमी भी होने लगी है, जिस कारण लागत निकालना भी मुश्किल हो रहा है।

सब्जियों के दामों आया उछाल

इसी तरह एक किलो टमाटर के लिए लोगों को ख्0 रुपये की जगह अब फ्0 रुपये खर्च करने पड़ रहे हैं। इस बीच मंडियों में हरी सब्जियों के साथ ही अमिया व खीरे की भी आवक शुरु हो गई है, जबकि इनका सीजन एक महीने बाद शुरु होगा। सब्जी व्यापारी अरुण ने बताया कि भिंडी, परवल, टमाटर शिमला मिर्च, बींस दूसरे प्रदेशों से मंगाई जा रही है। वहां से यातायात खर्च व थोक से स्थानीय मंडी व आम आदमी तक पहुंचते सब्जियों के दाम बढ़ जाते हैं।

अंगूर हुआ ज्यादा खट्टा

नासिक में हुई भारी बारिश की वजह से अंगूर की फसल बर्बाद हो गई है। ऐसे में इस साल मंडी में अंगूर की सप्लाई काफी कम होने की संभावना है। अंगूर के थोक रेट फ्0 रुपए किलो तक पहुंच गए है। जिसकी वजह से रिटेल मार्केट के अंगूर म्0-70 रुपए और काले अंगूर के रेट 80 रुपए किलो तक हो गए हैं।

अनार दिखाने लगा है भाव

जहां अंगूर की फसल बर्बाद हुई है वहीं अनार के रेट भी कुछ कम नहीं है। फल बिक्रेता अब्बा ने बताया कि कुछ दिन पहले तो 80 रुपए किलों ही रेट चल रहा था। लेकिन अब अनार का रेट क्फ्0 -क्ब्0 रुपए चल रहा है। अनार पर भी बारिश का बहुत बुरा असर पड़ा है।

बारिश से फसल चौपट

मुंडाली के किसान सुखपाल ने बताया कि बेमौसम की बारिश ने मटर, गोभी, पत्ता गोभ की फसल, अनार, आलू, मटर, धनिया, भिंडी को काफी नुकसान पहुंचाया है। इससे लोकल मार्केट में इन सब्जियों के दाम में इजाफा हुआ है। इंचौली के किसान अमरसिंह ने बारिश होने से इन सब्जियां में कीड़े भी लग गए है। किसानों को तो इसबार काफी ज्यादा घाटा हुआ है। जिसकी भरपाई बहुत ही मुश्किल है।

तो ऐसे बढ़े हैं दाम

सब्जियां पहले अब

परवल क्00 क्फ्0

भिंडी 70 क्00

टमाटर ख्0 फ्0

धनिया ख्भ् ब्0

मटर क्भ् ब्0

आलू 8 क्भ्

फल पहले अब

अनार 80 क्ब्0

पपीता क्भ् ख्0

अंगूर ब्भ् 70

काला अंगूर भ्0 80

संतरा ब्0 म्0

किनू क्भ् ख्भ्

यह रेट प्रतिकिलो के हिसाब से हैं

क्या कहते हैं विक्रेता

फलों में अंगूर और अनार पर बहुत असर आया है। बारिश के कारण माल पीछे से कम आया है। सबकुछ खराब हो गया है।

-अब्बा, फल विक्रेता

आलू और मटर इस बार बहुत ज्यादा नष्ट हुए हैं। इसलिए आलू की बोरी अब बहुत कम है। नवरात्र भी आने वाले हैं इसलिए माल स्टॉक करना पड़ रहा है।

-भूपेश, सब्जी विक्रेता

क्या कहती है महिलाएं

किचन पर बहुत ज्यादा फर्क पड़ा है, क्या कर सकते हैं। इस चक्कर में खाना तो छोड़ नहीं देंगे। मजबूरी में महंगा ही खरीदना पड़ रहा है।

-मंगती, रजबन

किचन पर तो फर्क हुआ ही है, ऐसे में दुकानदार भी ज्यादा ही भाव खाने लगे हैं। वह अपनी मनमर्जी से महंगा सामान बेच रहे हैं। सब्जी के बिना रोटी का गुजारा भी नहीं है।

-रीता आंनद

Posted By: Inextlive
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.